India-China standoff: भारतीय सेना से झड़प में 5 चीनी जवान मारे गए, 11 घायल

HIGHLIGHTS

  • ग्लोबल टाइम्स ( Global Times ) ने दावा किया है कि भारतीय और चीनी सैनिकों ( India-China standoff ) के बीच हुई झड़प में उसके पांच सैनिक मारे गए हैं, जबकि 11 सैनिक घायल हुए हैं।
  • चीन के विदेश मंत्री वांग यी ( China's Foreign Minister Wang Yi )ने कहा कि भारतीय सैनिकों ने दो बार सीमा पार करके अवैध रूप से चीन के अधिकार क्षेत्र में दाखिल हुए और रोकने पर चीनी सैनिकों पर हमला किया।

By: Anil Kumar

Updated: 16 Jun 2020, 04:26 PM IST

बीजिंग। भारत-चीन ( India-China Tension ) के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा ( LAC ) तनाव काफी बढ़ गया है और हिंसक झड़प की घटनाएं भी सामने आई हैं।

सोमवार की रात भारत और चीनी सेना के बीच पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी ( Tension In Galwan Valley ) में सेनाओं के पीछे हटने के दौरान दोनों ओर से हिंसक झड़प हुई। इस घटना में भारतीय सेना ( Indian Army ) के एक अधिकारी और जवान शहीद हो गए। सीमा पर संकट गहराने के बीच भारतीय सेना ने बयान जारी करते हुए बताया कि दोनों पक्षों को काफी नुकसान हुआ है।

Ladakh: गलवान घाटी में Indian और Chinese सेना के बीच हिंसक झड़प, एक अधिकारी और दो जवान शहीद

इधर इसकी पुष्टि चीनी मीडिया ने भी की है। चीनी मीडिया ने दावा किया है कि भारतीय सेना से हिंसक झड़प के दौरान 5 चीनी सैनिक मारे गए हैं। ग्लोबल टाइम्स ( Global Times ) ने दावा किया है कि दोनों पक्षों के बीच हुई झड़प में उसके पांच सैनिक मारे ( Chinese Army Killed ) गए हैं, जबकि 11 सैनिक घायल हुए हैं। बता दें कि दोनों पक्षों की ओर से ये बात स्वीकार की गई है कि हिंसक झड़प के दौरान एक भी गोली नहीं चली है।

चीन ने भारत पर लगाया आरोप

सीमा पर बढ़ते तनाव और हिंसक घटनाओं को लेकर चीन ने अब सियासी पैंतरा आजमाना शुरू कर दिया है। चीन ने भारत पर आरोप लगाया कि भारतीय सैनिक चीनी इलाके में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे हैं। इतना ही नहीं, चीन ने अनर्गल आरोप लगाया कि भारतीय सैनिक उसके क्षेत्र में अवैध रूप से दाखिल हुए और चीनी सैनिकों पर हमला किया।

चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कहा कि भारतीय सैनिकों ने दो बार सीमा पार करके अवैध रूप से चीन के अधिकार क्षेत्र में दाखिल हुए और रोकने पर चीनी सैनिकों पर हमला किया। इसी बीच दोनों पक्षों में झड़प हुई। उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि यदि सीमा पर इस तरह की गतिविधियां भारत की ओर से जारी रहता है तो इसकी सीधा असर तनाव कम करने के लिए चल रही वार्ता पर पड़ेगा।

चीन के सैनिकों से हिंसक झड़प में अफसर सहित भारत के तीन जवान शहीद, अखिलेश ने ट्वीट कर दिया यह बयान

चीन के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स ने बयान जारी किया जिसमें विदेश मंत्री ने भारतीय सेना की ओर से एकपक्षीय कार्रवाई का आरोप लगाया और सख्ती से रोक लगाने की मांग की। इधर कुछ लोग ये भी मान रहे है कि चीनी मीडिया चीनी सैनिकों के मारे जाने का दावा कर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत के खिलाफ मोर्चेबंदी करने का एक चाल चल रही है।

भारत के तीन जवान शहीद

आपको बता दें कि बीते कई दिनों से लद्दाख सीमा ( Ladakh Border ) पर भारत और चीनी सैनिकों ( Chinese Army ) के बीच टकराव की स्थिति देखने को मिल रही थी। इसके बाद ये खबर सामने आई कि दोनों पक्षों की ओर से सेनाएं अपने-अपने पूर्ववर्ती स्थानों पर लौट गए हैं।

दोनों देशों ने तय किया था कि चीन की सेना गलवान घाटी में पेट्रोलिंग प्वाइंट ( Petroling Point ) 14, 15 और 17 ए से पीछे हटेगी। लेकिन चीन की सेना श्योक नदी और गलवान नदी के मुहाने तक आ पहुंची थी। इसके बाद वे धीरे-धीरे पीछे हटना शुरू किए लेकिन पूरी तरह से नहीं हटे।

India-China Dispute: Article 370 हटने से भड़का है China, Chinese diplomat के ट्वीट से हुआ खुलासा

इसी बीच सोमवार को दोनों देशों की सेनाओं में झड़प हो गई और इस दौरान भारतीय सेना के एक अधिकारी और दो जवान शहीद हो गए। फिलहाल, सीमा पर गहराते संकट और मौजूदा हालात के मद्देनजर भारत और चीन के मेजर जनरल बातचीत कर रहे हैं। इधर इस घटना के बाद से भारत के अंदर सियासी सरगर्मी भी बढ़ गई है। विपक्ष लगातार सरकार पर हमलावर है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned