अफगानिस्तान: महिला मंत्रालय में महिलाओं को जाने की इजाजत नहीं, यहां सिर्फ पुरुष काम कर सकेंगे

तालिबान ने कुछ दिन पहले ऐलान करा था कि जिस दफ्तर में पुरुष कर्मचारी काम करते होंगे, वहां महिलाएं काम नहीं कर सकेंगी।

By: Mohit Saxena

Published: 17 Sep 2021, 10:23 PM IST

नई दिल्ली। अफगानिस्तान में तालिबान (Taliban) का कब्जा होने के बाद से लगातार ऐसी घटनाएं सामने आ रही हैं जो एक सभ्य समाज में नहीं देखी जाती हैं। यहां पर तालिबान सरकार आने के बाद से वहीं घटनाएं घटित हो रही हैं, जिसका हमेशा से डर बना हुआ था।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, महिला मामलों के मंत्रालय में महिला कर्मियों के जाने पर पाबंदी लगा दी है। वहां सिर्फ पुरुषों को काम करने की अनुमति दी गई है।

ये भी पढ़ें: राघव चड्ढा ने नवजोत सिद्धू पर किया हमला, कहा-पंजाब राजनीति के राखी सावंत

महिला कर्मचारियों को ही जाने से रोक दिया

तालिबान ने कुछ दिन पहले ऐलान करा था कि जिस दफ्तर में पुरुष कर्मचारी काम करते होंगे, वहां महिलाएं काम नहीं कर सकेंगी।रूसी मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार तालिबान के कुछ प्रतिनिधियों ने महिला मामलों के मंत्रालय में महिला कर्मचारियों को ही जाने से रोक दिया है। एक कर्मचारी ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि चार महिला कर्मचारियों को अंदर नहीं जाने दिया गया। इसके खिलाफ महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन किया।

वे सिर्फ बच्चे पैदा करें

तालिबान राज आने के बाद से ये आशंका पहले से लगाई जा रही थी कि महिलाओं के प्रति उसका व्यवहार ठीक नहीं होगा। यहां तक कि तालिबान ने जिस सरकार का गठन करा है, उसमें एक भी महिला शामिल नहीं है। इस पर सवाल पूछने पर तालिबान के प्रवक्ता ने मीडिया से यहां तक कह डाला कि महिलाएं मंत्री नहीं बन सकती, वे सिर्फ बच्चे पैदा करें।

इसे लेकर कई महिलाएं शोधकर्ता ने भी गवाही दी है कि तालिबान महिलाओं पर लगातार क्रूरता बढ़ाता जा रहा है। अफगान छोड़कर आईं शोधकर्ता और कार्यकर्ता हुमैरा रियाजी ने कहा था कि ‘वे महिलाओं को इंसान नहीं समझते।’

 

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned