राघव चड्ढा ने नवजोत सिद्धू पर किया हमला, कहा-पंजाब राजनीति के राखी सावंत

आप नेता ने कहा कि सिद्धू को पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार के खिलाफ बयानबाजी को लेकर कांग्रेस हाईकमान से डांट मिली है।

By: Mohit Saxena

Published: 17 Sep 2021, 05:54 PM IST

नई दिल्ली। पंजाब में आप और कांग्रेस में तीखी बयानबाजी देखने को मिली रही है। आम आदमी पार्टी (AAP) नेता राघव चड्ढा (Raghav Chadha) ने कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्दू (Navjot singh sidhu) को पंजाब की राजनीति का राखी सावंत कह दिया है।

दरअसल नवजोत सिंह सिद्धू ने दिल्ली में आप सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केजरीवाल सरकार ने केंद्र के किसान कानूनों में से एक कानून को दिल्ली में लागू कर दिया था और उसके बाद विधानसभा में कानून की कॉपी फाड़ने का ड्रामा किया।

ये भी पढ़ें: SCO Summit 2021: नए मुस्लिम देश भी बने सदस्य, मोदी बोले- कट्टरता बढ़ रही है और यह सबसे बड़ी चुनौती

 

कांग्रेस हाईकमान से डांट मिली

सिद्धू के इस बयान पर आप भड़क गई है। AAP नेता राघव चड्ढा ने सिद्धू को पंजाब की राजनीति के राखी सावंत कह डाला। उन्होंने कहा कि सिद्धू को पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार के खिलाफ बयानबाजी को लेकर कांग्रेस हाईकमान से डांट मिली है।

कानून को लागू करने की अधिसूचना जारी की

गौरतलब है कि नवजोत सिंह सिद्धू ने दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार को किसान कानूनों पर घेरा। उन्होंने कहा कि जिस समय दिल्ली की सीमा पर किसान आंदोलन कर रहे थे उस समय केजरीवाल सरकार ने केंद्र के तीन कृषि कानूनों में एक कानून को लागू करने की अधिसूचना जारी की थी। इसके जरिए कृषि उपज मंडियों को रद्द कर प्राइवेट मंडियों को स्थापित करने का रास्ता साफ करा था।

सिद्धू ने अपने ट्वीट संदेश में कहा था कि आम आदमी पार्टी ने एक दिसंबर 2020 को दिल्ली में एपीएमसी मंडी को रद्द कर प्राइवेट मंडी को स्थापित करने वाले मोदी सरकार के कानून को लागू करा।

यह मगरमच्छ के आंसू हैं

सिद्धू ने कहा, किसान दिल्ली की सीमा पर आंदोलन कर रहे थे। इसके बाद सेशन बुलाकर बिल फाड़ने का ड्रामा किया, मगर प्राइवेट मंडियों के जिस कानून को नोटिफाई करा था क्या उसको डी-नोटिफाई किया? अगर डी-नोटिफाई किया होता तो वे मानते। यह सिर्फ ड्रामा है सारा, यह मगरमच्छ के आंसू हैं।"

AAP
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned