ट्रांसजेंडर के साथ गंदा काम करना चाहते थे चार युवक, नाकाम होने पर कर दिया जिंदा आग के हवाले

ट्रांसजेंडर के साथ गंदा काम करना चाहते थे चार युवक, नाकाम होने पर कर दिया जिंदा आग के हवाले

Kapil Tiwari | Publish: Sep, 10 2018 09:15:18 PM (IST) एशिया

मानवाधिकार आयोग ने इस घटना के बाद संबंधित विभागों को नोटिस भेजा है और रिपोर्ट मांगी है।

लाहौर। एक तरफ तो हिंदुस्तान में समलैंगिकता को मान्यता देकर देश की सबसे बड़ी अदालत ने मिसाल पेश की है तो वहीं भारत के पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में ट्रांसजेंडर्स पर दरिंदगी भरे जुल्म ढहाए जा रहे हैं। दरअसल, पाकिस्तान से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। बीते शनिवार को लाहौर के सहीवाल जिले में एक ट्रांसजेंडर को चार लोगों ने जिंदा जला दिया। बताया जा रहा है कि ये लोग उसका यौन उत्पीड़न करने की कोशिश कर रहे थे, जब चारों लोग इस काम में नाकाम रहे तो कथित तौर पर ट्रांसजेंडर को जिंदा जला दिया। इस हादसे में ट्रांसजेंडर की मौत हो गई।

अस्पताल पहुंचने तक 80 फीसदी जल चुका था शरीर

जानकारी के मुताबिक, ट्रांसजेंडर को जब तक अस्पताल में भर्ती कराया जाता वो 80 फीसदी जल चुका था। लाहौर के ही एक अस्पताल में उसकी मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक शनिवार को लाहौर से करीब 250 किलोमीटर दूर सहीवाल जिले में चार आरोपी ट्रांसजेंडर को एक कैब स्टेशन के पास सुनसान जगह पर ले गए और उसके यौन उत्पीड़न का प्रयास किया। ट्रांसजेंडर ने जब इसका विरोध किया तो उन्होंने उसे आग लगा दी।

ट्रांसजेंडर समुदायक के लिए अनसेफ माना जाता है ये इलाका

आपको बता दें कि पाकिस्तान में ट्रांसजेंडर्स के लोगों के साथ इस तरह का कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी यहां इस तरह की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। पाकिस्तान के उत्तरी इलाके को ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए बेहद ही असुरक्षित माना जाता है।

मानवाधिकार आयोग ने विभागों को दिया है निर्देश

खैबर-पख्तूनख्वा मानवाधिकार निदेशालय ने ट्रांसजेंडरों के खिलाफ हिंसा के बढ़ते मामलों को गंभीरता से संज्ञान में लिया है। मानवाधिकार निदेशालय ने विभागों को निर्देश दिया गया है कि हाल में हुई ट्रांसजेंडरों की हत्या के मामलों में अपनी जांच के बारे में दैनिक आधार पर उनसे जानकारी साझा करें।

Ad Block is Banned