सड़क पर कूड़ा उठा रहे गरीब बच्चे का भगवान बना यूपी का यह जिलाधिकारी, दिया आवास, कहा तुम पढ़ो एक दिन अधिकारी बनोगे

सड़क पर कूड़ा उठा रहे गरीब बच्चे का भगवान बना यूपी का यह जिलाधिकारी, दिया आवास, कहा तुम पढ़ो एक दिन अधिकारी बनोगे
सड़क पर कूड़ा उठा रहे गरीब बच्चे का भगवान बन गया यूपी यह जिलाधिकारी, दिया आवास, स्कूल में कराया दाखिला और...

Ashish Kumar Shukla | Updated: 25 Jun 2018, 08:01:18 PM (IST) Azamgarh, Uttar Pradesh, India

अकेले थर्माकोल की सफाई कर रहे गरीब बच्चे से मिलने के बाद डीएम ने किया फैसला

आजमगढ़. कई सालों से लगातार गंदगी से बेहाल तमसा नदी की सफाई को महाअभियान बनाकर इसे स्वच्छ कराने वाले जिलाधिकारी की दिलेरी की चर्चा पूरे जिले में खूब की जा रही है। जिलाधिकारी ने कूड़ा उठाने वाले गरीब बच्चों को जौ सौगात दिया है उससे इस जिलाधिकारी की सराहना करते लोग नहीं थक रहे हैं।

जी हां आजमगढ़ के जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी जब से यहां पदभार संभाले हैं स्वच्छता को लेकर लोगों के मन में बड़ा विश्वास पैदा कर दिया है। हर रोज खुद तमसा के गहरे पानी में घुसकर सफाई करने वाले जिलाधिकारी सोमवार को भी शहर में सफाई की पड़ताल कर रहे थे।

इसी बीच उनकी नजर कूड़ा उठाने वाले एक बच्चे पर पड़ गई। बच्चा धूप की परवाह किये बिना कूड़ा उठाये जा रहा था। डीएम ने अपनी गाड़ी रूकवा दिया। बच्चे को अपने पास बुलाया। पूछा तो उसने अपना नां रोहित बताया। उसके पैरों में न चप्पल थे और शरीर पर कपड़े। जिलाधिकारी ने पूछा तो बताया कि मैं गरीब हूं नाना के घर रहकर कचरा उठाने का काम करता हूं। जो कुछ पैसे कमाता हूं उससे अपने नाना की सेवा करता हूं।

बच्चे की बात सुनकर डीएम का दिल भर आया। तुरंत जिलाधिकारी ने उसके नाना को बुलवाया। डीएम का संदेश सुनते ही नाना जीवनधन निषाद दौड़े आ गये। डीएम ने कहा कि आपका बेटा इस गर्मी में बिना चप्पल जूते के कितनी मेहनत से काम कर रहा है। नाना ने बताया कि कुछ है ही नहीं इसी के सहारे जीवन जी रहे हैं। जिलाधिकारी ने आवास आवंटित करने की स्वीकृति दी तथा इसी के साथ-साथ संबंधित अधिकारी को निर्देश दिए कि रोहित का प्राथमिक विद्यालय में दाखिला कराना सुनिश्चित करें। डीएम ने उस बच्चे से कहा तुम कल से स्कूल जाओ खूब पढ़ो तुम एक दिन बहुत बड़े अधिकारी बनोगे। डीएम की इस दिलेरी को जिसने भी देखा उसने जमकर तारीफ किया।

23 दिन से तमसा सफाई अभियान में जुटे हैं डीएम

ये पहला मामला नहीं है। जिलाधिकारी तमसा की सफाई को लेकर भी चर्चा में हैं। लगातार 23 दिन से खूब तमसा नदीं में घंटों सफाई करते हैं। डीएम को देखकर सैकड़ों युवा भी उनके पीछे सफाई करने जुट जाते हैं। अब इस बच्चे को दिये इस सौगात से भी उनकी तारीफ की जा रही है।

 

 

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned