अब आरटी पीसीआर लैब में प्रतिदिन होगी 300 लोगों की जांच, दो दिन में शुरू हो जाएगी लैब

- ऑटोमेटेड आरएनए स्ट्रक्चर स्थापित होने के बाद एक दिन में हो सकेगी 700 लोगों की जांच
- गोरखपुर मेडिकल कालेज पर निर्भरता होगी समाप्त, संक्रमण रोकने में मिलेगी मदद
- जिलाधिकारी ने किया नव निर्मित लैब का निरीक्षण, बोले दो दिन में शुरू हो जाएगी लैब

By: Neeraj Patel

Published: 24 Aug 2020, 08:48 PM IST

आजमगढ़. कोरोना के लगातार बढ़ रहे संक्रमण के बीच जिले के लोगों के लोगों के लिए राहत भरी खबर है। अब लोगों को आरटी पीसीआर जांच के रिजल्ट के लिए दो से तीन दिन इंतजार नहीं करना होगा और ना ही लखनऊ अथवा गोरखपुर लैब पर निर्भर रहना होगा। कारण कि राजकीय मेडिकल कालेज आजमगढ़ में आरटी पीसीआर लैब की स्थापना कर दी गयी है। दो दिन में यहां जांच भी शुरू हो जाएगी। लैब के शुरू होने के बाद यहां प्रतिदिन 300 लोगों की जांच की जा सकेगी।

जिलाधिकारी राजेश कुमार ने सोमवार को राजकीय मेडिकल कालेज के आरटी पीसीआर लैब का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने बताया कि आरटी पीसीआर लैब दो दिन बाद सक्रिय हो जायेगा, आरटी पीसीआर लैब से प्रतिदिन 300 मरीजों की जाॅच की जा सकती है। आरटी पीसीआर लैब में आॅटोमेटेड आरएनए स्ट्रक्चर भी स्थापित किया जायेगा, इसके स्थापित हो जाने से प्रतिदिन मरीजों के जाॅच करने की क्षमता 300 से बढ़कर 700 हो जायेगी।

जिलाधिकारी ने राजकीय मेडिकल कालेज के प्रधानाचार्य को निर्देश दिये कि 03 जनरेटर एवं ऑटोमेटेड आरएनए स्ट्रचर मंगाने के लिए प्रस्ताव जल्द से जल्द भेज दें। डाॅ. आतोष असिस्टेन्ट प्रोफेसर माइक्रो बायोटेक जो गोरखपुर मेडिकल कालेज में अटैच हैं, उनसे कार्य लिये जाने के लिए राजकीय मेडिकल कालेज आजमगढ़ में बुला लें।

इस दौरान जिलाधिकारी ने राजकीय मेडिलक कालेज में भर्ती मरीजों की सूची प्राप्त कर 4-5 मरीजों से बातचीत की। जिलाधिकारी ने डाक्टर समय पर आकर उपचार कर रहे हैं कि नही, भोजन, पानी, दवा आदि के बारे में मरीजों से जानकारी ली। डीएम नेबताया कि बिलरियागंज का एक मरीज जिसका इलाज लाइफ लाइन अस्पताल में चल रहा था, कोरोना संक्रमित पाये जाने पर राजकीय मेडिकल कालेज में रेफर किया गया है। जिस पर जिलाधिकारी ने लाइफ लाइन आजमगढ़ को निर्देश दिये हैं कि रेफर किया गया मरीज जो राजकीय मेडिकल कालेज में भर्ती है, उसके इलाज में सहयोग के लिए संबंधित डाक्टर को राजकीय मेडिकल कालेज में भेजें।

इस अवसर पर मुख्य राजस्व अधिकारी हरी शंकर, जीएमसी प्रधानाचार्य, सीएमओ डाॅ. एके मिश्रा, अपर सीएमओ डाॅ. संजय, नोडल अधिकारी दीपक पाण्डेय, एचओडी एण्ड असिस्टेन्ट प्रोफेसर माइक्रोबायोलाॅजी डिपार्टमेन्ट डाॅ. प्रतीक्षा श्रीवास्तव उपस्थित रही।

Corona virus Corona Virus Precautions
Show More
Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned