क्वारेंटाइन किए गए एक और संदिग्ध की मौत, कोरोना प्रोटोकॉल के तहत किया जाएगा अंतिम संस्कार

- दो दिन पहले जिला अस्पताल में एक ने तोड़ा था दम, संख्या पहुंची 3

By: Abhishek Gupta

Published: 22 May 2020, 09:13 PM IST

आजमगढ़. जिले में कोरोना संदिग्ध प्रवासी मजदूरों के मरने का सिलसिला जारी है। शुक्रवार की सुबह जिला अस्पातल में क्वारेंटाइन किए गए एक 50 वर्षीय अधेड़ की मौत हो गयी। हाल ही में वह दिल्ली से लौटा था। उसे अतरौलिया के क्वारंटीन सेंटर से 20 मई को जिला अस्पताल के लिए रेफर किया गया था। तभी से उसका इलाज चल रहा था। उसका पुत्र भी जिला अस्पताल में भर्ती है। दोनों की कोरोना जांच के लिए उनका सैंपल 20 मई को गोरखपुर लैब भेजा गया था, लेकिन अभी तक रिपोर्ट नहीं आई है। कोरोना प्रोटोकॉल के अनुसार उनका अंतिम संस्कार करने की तैयारी चल रही है। अब तक जिला अस्पातल में तीन संदिग्धों की मौत हो चुकी है।

ये भी पढ़ें- यहां एक साथ 7 कोरोना संक्रमितोंं के मिलने से मचा हड़कंप, रेड जोन में हो सकता है शामिल, इलाके सील

अतरौलिया थाना क्षेत्र के रघुनाथपुर प्रानपुर निवासी 50 वर्षीय अधेड़ हाल ही में अपने पुत्र के साथ दिल्ली से लौटा था। दोेनों को 17 मई को अतरौलिया 100 शैय्या अस्पताल में क्वारेंटाइन किया गया था। 20 मई को तेज बुखार और खांसी के लक्षण दिखाई देने पर दोनों को जिला अस्पताल रेफर किया गया था।

ये भी पढ़ें- सीएम योगी ने पेश की नजीर, निर्माण कार्य में आड़े आ रहे अपने ही मंदिर की गिरवाई दीवार

कोरोना प्रोटोकाल के तहत किया जाएगा अंतिम संस्कार-

जिला अस्पताल में सैंपल भेजे जाने के बाद उन्हें यहीं क्वारंटीन किया गया था। शुक्रवार की सुबह अधेड़ की जिला अस्पताल में मौत हो गई। पुत्र का इलाज अभी चल रहा है। दोनों की जांच रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है। जिला अस्पताल में अभी तक तीन कोरोना संदिग्धों की मौत हो चुकी है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एके मिश्र ने बताया कि मृतक का अंतिम संस्कार कोरोना प्रोटोकाल के तहत किया जाएगा।

Corona virus
Show More
Abhishek Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned