पत्रिका खबर का बड़ा असर, इस जिले के लीड कॉलेज में पैसों की हेराफेरी, शिक्षा आयुक्त करेंगे जांच

पत्रिका खबर का बड़ा असर, इस जिले के लीड कॉलेज में पैसों की हेराफेरी, शिक्षा आयुक्त करेंगे जांच

Chandra Kishor Deshmukh | Publish: Oct, 14 2018 08:20:30 AM (IST) Balod, Chhattisgarh, India

जिले के लीड कॉलेज में हुई जनभागीदारी शुल्क में लाखों की गड़बड़ी का खुलासा के बाद मामला शिक्षा आयुक्त तक पहुंच गया है। खबर प्रकाशन के बाद प्राचार्य ने कार्रवाई के लिए शिक्षा आयुक्त रायपुर को पत्र लिखा है।

बालोद. पत्रिका द्वारा जिले के लीड कॉलेज में हुई जनभागीदारी शुल्क में लाखों की गड़बड़ी का खुलासा के बाद मामला शिक्षा आयुक्त तक पहुंच गया है। खबर प्रकाशन के बाद प्राचार्य ने तत्काल पहल करते हुए कार्रवाई के लिए शिक्षा आयुक्त रायपुर को पत्र लिखा है। पत्र की एक प्रति कलक्टर को भी दी गई है। इधर मामले का खुलासा होने के बाद तो सीनियर छात्र-छात्राओं ने भी प्राचार्य से मामले की जांच कर दोषी व्यक्तियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

पहले भी हो चुकी है गड़बड़ी
कॉलेज सूत्रों के मुताबिक इस मामले में गड़बड़ी की पुष्टि होने के बाद संबंधित दोषी व्यक्ति पर निलंबन कार्रवाई की तलवार लटक रही है। इससे पहले भी विद्यार्थियों की छात्रवृत्ति की राशि में गड़बड़ी हुई थी। शिकायत और संबंधित व्यक्ति को फटकार के बाद उसने राशि जमा कर दी थी। जानकारी अनुसार विभाग के बाबू ने ही कॉलेज में छात्र-छात्राओं से हर साल लिए जाने वाले जनभागीदारी शुल्क में गड़बड़ी की है। गड़बड़ी एक-दो नहीं बल्कि 9 लाख रुपए की है। इसकी कॉलेज प्रबंधन को पूरी जानकारी होने के बावजूद मामले को दबाए रखा गया।

दिन भर चली फाइल की जांच की कार्रवाई
बताया जाता है कि नए प्रकरण के साथ ही प्राचार्य जेके खलखो ने पुरानी फाइल की भी जांच की है। जांच के बाद कार्रवाई शिक्षा आयुक्त रायपुर सहित कलक्टर को पत्र लिखा गया। प्राचार्य भी मान रहे हैं कि बाबू ने गड़बड़ी की है उनके कार्रवाई की जाएगी।

इस राशि का हिसाब-किताब नहीं
जिस राशि की गड़बड़ी की है वह राशि नियमित और प्राइवेट
विद्यार्थियों की है। जमा राशि का उपयोग कॉलेज व विद्यार्थियों के हित में की जाती है। बताया जाता है कि इस राशि का कोई हिसाब किताब नहीं है।

छात्रवृत्ति राशि में हुई है गड़बड़ी
शासकीय कॉलेज के प्राचार्य जेके खलखो ने बताया छात्रवृत्ति राशि में गड़बड़ी हुई है। दोषी व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई के लिए कलक्टर और शिक्षा आयुक्त को पत्र लिखा गया है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned