छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य जहां सभी का बन रहा है राशन कार्ड

बालोद जिला मुख्यालय में आयोजित नवीन राशन कार्ड वितरण में शामिल होने तीन घंटे विलंब पहुंचे जिले के प्रभारी व खाद्य मंत्री अमरजीत भगत और बारिश के कारण कार्यक्रम फीका रहा।

By: Chandra Kishor Deshmukh

Published: 26 Sep 2019, 08:16 AM IST

बालोद @ patrika. जिला मुख्यालय में आयोजित नवीन राशन कार्ड वितरण में शामिल होने तीन घंटे विलंब पहुंचे जिले के प्रभारी व खाद्य मंत्री अमरजीत भगत और बारिश के कारण कार्यक्रम फीका रहा। बारिश के बीच मंत्री अमरजीत भगत, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेडिय़़ा, विधायक संगीता सिन्हा, कुंवर सिंह निषाद ने हितग्राहियों को नया राशन कार्ड का वितरण किया।

नहीं कर रहे किसी से भेदभाव
जिला मुख्यालय के सरदार पटेल मैदान में आयोजित कार्यक्रम में मंत्री भगत ने कहा बारिश से परेशानी हुई लेकिन लोगों के साथ यहां इंद्र देव भी आ गए। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ पूरे देश का पहला राज्य है जहां गरीबों के साथ एपीएल का भी राशन कार्ड बनाया जा रहा है। प्रदेश के मुखिया हर वर्गों का ख्याल रख रहे है। न किसी से भेदभाव न किसी से बैर सभी का राशन कार्ड बनाया जा रहा है।

सबका राशन कार्ड बनेगा
मंत्री भेडिय़ा ने कहा कि यहां तो एसपी और कलक्टर का भी राशन कार्ड बनाना है ऐसा नहीं की आज राशन कार्ड का वितरण हुआ तो बाद में कार्ड नहीं बनेगा। राशन कार्ड हमेशा बनता रहेगा और सबका बनेगा।

बारिश के कारण लोग चले गए
मंत्री भगत निर्धारित समय से तीन घंटे विलंब से पहुंचने और बारिश के पहले अच्छी भीड़ थी। रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम ने लोगों को बांधे रखा किंतु ऐनवक्त पर एक घंटे की बारिश ने कार्यक्रम में खलल डाल दिया। अंत में जिला प्रशासन, हितग्राही और पार्टी कार्यकर्ताओं ने राशन कार्ड का वितरण किया।

अतिथियों ने खरीदी सब्जी
राशन कार्ड वितरण कार्यक्रम में पहुंचे अतिथियों ने उद्यानिकी विभाग की प्रदर्शनी का अवलोकन के समय सब्जी ख्रीदी और भुगतान भी किया।

सेल्फी जोन में दो मंत्रियों ने ली सेल्फी
महिला बाल विकास विभाग के स्टॉल में जहां छत्तीसगढ़ के पारंपरिक पकवान ठेठरी खुरमी बिजौरी खाने के बाद सेल्फी जोन में मंत्रियो ने सेल्फी भी ली।

Show More
Chandra Kishor Deshmukh Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned