भाजपा ने घोषित प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे बागी जिपं सदस्य को 6 साल के लिए पार्टी से निकाला, 4 और पर गिरी गाज

भाजपा ने घोषित प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे बागी जिपं सदस्य को 6 साल के लिए पार्टी से निकाला, 4 और पर गिरी गाज

Ram Prawesh Wishwakarma | Publish: Nov, 10 2018 07:33:10 PM (IST) Balrampur, Balrampur, Chhattisgarh, India

सियासी घमासान के बीच पार्टी ने की बड़ी कार्रवाई, नेताम के करीबी माने जाने वाले भाजपा जिला महामंत्री अनूप तिवारी को किया निलंबित

बलरामपुर. रामानुजगंज विधानसभा में टिकट की घोषणा के बाद से ही अपने ही पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं का भारी विरोध झेल रही भाजपा ने कड़े तेवर दिखाए हैं। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने बागी होकर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे जिला पंचायत सदस्य विनय पैंकरा को जहां 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया।

वहीं भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष व जिला पंचायत सदस्य धीरज सिंहदेव, मंडल अध्यक्ष बलरामपुर दीनानाथ यादव, जिला भाजपा के महामंत्री अनूप तिवारी व मंडल अध्यक्ष रामानुजगंज ललन यादव को भी निलंबित कर दिया है।


गौरतलब है कि रामानुजगंज में भाजपा ने रामकिशुन सिंह को प्रत्याशी घोषित किया है। रामकिशुन सिंह के टिकट की घोषणा के बाद से ही यहां मचा सियासी घमासान अभी तक खत्म नहीं हुआ है। जिला भाजपा का एक धड़ा अलग होकर बागी हो गया है, इसमें कई पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने बागी तेवर अपना लिए हैं तथा सभी ने जिला पंचायत सदस्य विनय पैंकरा को अपना प्रत्याशी बताकर चुनावी मैदान में उतार दिया है।

विनय पैंकरा पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ निर्दलीय उम्मीदवार के रुप में ताल ठोक रहे हैं तथा उनके प्रचार में भाजपा के ही पदाधिकारी व कार्यकर्ता लगे हैं। इस खुली बगावत से पार्टी के प्रत्याशी रामकिशुन सिंह को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

अभी हाल ही में चुनाव की रणनीति बनाने बुलाई गई बैठक में भी एक धड़े के पदाधिकारी व कार्यकर्ता नदारद थे। इन परिस्थितियों को देखते हुए पार्टी आलाकमान ने सख्त तेवर अपना लिए हैं।


अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लडऩे पर कार्रवाई
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने रामानुजगंज विधानसभा में पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के विरूद्ध चुनाव लडऩे पर जिला पंचायत सदस्य विनय पैंकरा को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से 6 साल के निष्कासित कर दिया है। गौरतलब है कि विनय पैंकरा ने नामांकन दाखिल करने से पहले कहा था कि अगर पार्टी रामविचार नेताम को टिकट देती वे चुनाव नहीं लड़ते।

हालांकि नाम वापसी से पूर्व तक पार्टी तथा प्रत्याशी रामकिशुन सिंह ने भी विनय पैंकरा को काफी मनाने की कोशिश की थी, लेकिन वे नहीं माने। अंतत: पार्टी ने कार्रवाई करते हुए उन्हें निष्कासित कर दिया। भाजपा प्रदेश महामंत्री पवन साय द्वारा निष्कासन आदेश जारी किया गया है।


अन्य पर भी गिरी गाज
रामानुजगंज विधानसभा में भाजपा के अधिकृत प्रत्याशी रामकिशुन सिंह के विरूद्ध प्रचार करने तथा पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त रहने पर भाजपा के जिला महामंत्री अनूप तिवारी पर भी गाज गिरी है। प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने इसे अनुशासनहीनता का गंभीर कृत्य मानते हुए जिला महामंत्री को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है।

अनूप तिवारी राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम के काफी करीबी माने जाते हैं। ये निर्दलीय प्रत्याशी विनय पैंकरा के नामांकन दाखिले में नेतृत्वकर्ता के रूप में शामिल हुए थे।

वहीं भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष व जिला पंचायत सदस्य धीरज सिंहदेव, मंडल अध्यक्ष बलरामपुर दीनानाथ यादव व मंडल अध्यक्ष रामानुजगंज ललन यादव को भी निलंबित कर दिया है। पार्टी की इस कार्रवाई से जिला भाजपा में हड़कंप मचा हुआ है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned