scriptGirl child raped: Relative raped girl child, Court gave lifetime jail | बारात में शामिल होने आई बालिका से रिश्तेदार ने किया बलात्कार, कोर्ट ने दी ये सजा | Patrika News

बारात में शामिल होने आई बालिका से रिश्तेदार ने किया बलात्कार, कोर्ट ने दी ये सजा

Girl Child Raped: आरोपी को 10 हजार रुपए अर्थदंड की सजा भी सुनाई, न्यायाधीश (Judge) ने बालिका के शारीरिक, मानसिक हानि और पुनर्वास हेतु 10 लाख रुपए का प्रतिकर प्रदान करने की अनुशंसा की, स्थानीय प्रशासन से पीडि़ता को अच्छे स्कूल में 12वीं तक नि:शुल्क शिक्षा (Free Education) दिलाने के दिए आदेश

बलरामपुर

Published: November 19, 2021 08:52:31 pm

रामानुजगंज. Girl Child Raped: बलरामपुर-रामानुजगंज जिला अंतर्गत एक गांव में ढाई साल पहले 12 वर्षीय बालिका के साथ करीबी रिश्तेदार द्वारा बलात्कार (Rape) किया गया था। वह अपनी बहन के साथ बारात में शामिल होने आई थी।
Court gave lifetime imprisonment
Girl child raped
थाने में धारा 5 अपठित धारा 6 लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 विकल्प में धारा 376 (2) (ढ) तथा 506 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर न्यायालय में प्रस्तुत किया था।

मामले में अपर सत्र न्यायाधीश विशेष न्यायालय पॉक्सो एफटीसी रामानुजगंज वंदना दीपक देवांगन ने फैसला सुनाते हुए अपराध की प्रकृति तथ्य एवं परिस्थितियों को देखते हुए प्रस्तुत मामले में अभियुक्त द्वारा किए गए अपराध की प्रकृति को दृष्टिगत रखते हुए अभियुक्त को धारा 506 के तहत एक वर्ष सश्रम कारावास एवं 1000 का अर्थदंड, वहीं धारा 376 (2) (ढ) के आरोप में दोषी करार देते हुए आजीवन कारावास (Lifetime Imprisonment) एवं 10 हजार के अर्थ दण्ड की सजा सुनाई।

14 मार्च 2019 की सुबह 5 बजे के करीब 12 वर्षीय बालिका जो अपने रिश्तेदार के यहां बारात में सम्मिलित थी। वह अपनी दीदी एवं मौसी के साथ बारात देख रही थी। उसी समय उसका 19 वर्षीय करीबी रिश्तेदार आया एवं वहां से बहला-फुसलाकर बालिका को अपने साथ जबरन स्कूल की तरफ ले गया।
यहां उसने बालिका से बलात्कार किया एवं किसी को यह बात बताने पर जान से मारने की धमकी दी थी। इधर बालिका ने यह बात अपने परिजन को बताई तो परिजनों ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर प्रकरण न्यायालय में प्रस्तुत किया।
यह भी पढ़ें
शादी का झांसा देकर शहर की युवती से कई बार बलात्कार, कोर्ट ने झारखंड के युवक को सुनाया 10 वर्ष का सश्रम कारावास


कोर्ट ने सुनाई आजीवन कारावास की सजा
सुनवाई पूरी होने के बाद अपर सत्र न्यायाधीश विशेष न्यायालय पॉक्सो एफटीसी रामानुजगंज वंदना दीपक देवांगन ने आरोपी को आजीवन कारावास व 10 हजार के अर्थदंड से दंडित किया है।
वहीं न्यायाधीश ने बालिका के शारीरिक, मानसिक हानि और पुनर्वास हेतु 10 लाख रुपए का प्रतिकर प्रदान करने की अनुशंसा की। वहीं कलक्टर बलरामपुर-रामानुजगंज को 18 वर्ष आयु होने तक बालिका की नि:शुल्क शिक्षा किसी अच्छे शैक्षणिक संस्थान में प्रदान कराए जाने के निर्देश दिए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

बेटी का जुल्म-बुजुर्ग ने जेब से निकालकर बताई दाढ़ी और नाखून, छलक उठे गम के आंसूयहां PWD का बड़ा कारनामा, पेयजल पाइप लाइन के ऊपर ही बना रहे ड्रेनेज सिस्टम, गुस्साए विधायक ने की सीएम से शिकायतमोदी की लीडरशिप से वैक्सीन का रिकार्ड बनाया भारत ने: पूनियाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: जानें बीजेपी में भगदड़ का पूर्वांचल की सियासत पर क्या होगा असरसीएम और यूडीएच मंत्री के जिलों में पार्षदों का मनोनयन, जयपुर को अब भी इंतजारमंगल ग्रह 42 दिन तक धनु राशि में करेगा गोचर, 7 राशि वालों का चमकाएगा करियरUP Elections : अखिलेश का मुकाबला करने के लिए बीजेपी ने 'हिंदू पहले' की नीति अपनाईभाजपा की सूची जारी होने के बाद प्रत्याशी के विरोध में पूर्वांचलियों का हंगामा, झड़प के बाद आधा दर्जन हिरासत में
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.