झारखंड से बस में आ रहे युवक की बैग की तलाशी ली तो पुलिस के उड़ गए होश

rampravesh vishwakarma

Publish: Mar, 20 2018 08:48:16 PM (IST)

Balrampur, Chhattisgarh, India
झारखंड से बस में आ रहे युवक की बैग की तलाशी ली तो पुलिस के उड़ गए होश

झारखंड से रायपुर चलने वाली बस में सफर कर रहा था युवक, अपने आप को कथित रूप से बता रहा था पत्रकार

राजपुर. झारखंड से बस में बैठकर अंबिकापुर आ रहे एक युवक को पुलिस ने बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के ग्राम पस्ता में धरदबोचा। पुलिस ने बस रुकवाकर जब उसके पास रहे बैग की तलाशी ली तो उनके होश उड़ गए। बैग में भारी मात्रा में नशीली सिरप व टैबलेट्स थे। इसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर नशीली दवाइयां जब्त कर लीं।

पुलिस ने उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की है। आरोपी कथित रूप से अपने आप को पत्रकार बता रहा था। पुलिस ने उसकी आईडी भी जब्त की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पूरी कार्रवाई बलरामपुर एसपी टीआर कोशिमा के मार्गदर्शन व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पंकज शुक्ला के नेतृत्व में मुखबिर की सूचना पर की गई।

 

Drug smuggler arrested

बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के पस्ता थाना प्रभारी को सोमवार को मुखबिर से सूचना मिली कि गढ़वा झारखंड से रायपुर चलने वाली दुबे बस क्रमांक सीजी 05 सी 0282 में अंबिकापुर मायापुर चांदनी चौक निवासी विकास कश्यप एक काले रंग के बैग में बड़ी मात्रा में नशीली दवाएं अंबिकापुर बेचने के लिए ला रहा है। इस पर पस्ता पुलिस ने थाने के सामने घेराबंदी कर दुबे बस को रूकवा कर जांच की। जांच में विकास द्वारा रखे गए बैग में 190 नग प्रतिबंधित कफ सिरप व 26 पत्ता अल्प्रासेफ टेबलेट जब्त किया।

आरोपी के खिलाफ 21बी एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई। जब्त नशीली दवाओं की कीमत लगभग 21 हजार रुपए बताई गई है। कार्रवाई में पस्ता थाना प्रभारी धीरेंद्र बंजारे, डौरा चौकी प्रभारी अवनीश कुमार श्रीवास, परमेश्वर दुबे, बिजेंद्र भगत, सुशील खलखो, विजय टोप्पो, लोहर साय कुजूर, पुन्नू राम मरावी, बसंत व बीरू राम शामिल रहे।


इन स्थानों पर बेचता था दवाएं
पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह झारखंड-बिहार से नशीला कफ सिरप व दवाएं लाकर बलरामपुर, अंबिकापुर, सूरजपुर, बिश्रामपुर व कोरिया में बेचता था। 55 रुपए कफ सिरप को 110 रुपए में बेचकर मुनाफा कमाता था। वहीं आरोपी से जब्त आईडी में यह बात सामने आई कि वह कुछ अखबारों का ब्यूरो चीफ भी है।

Ad Block is Banned