scriptAllegation of attempt to suppress Haveri scandal by whitewashing | हावेरी कांड लीपापोती कर दबाने के प्रयास का आरोप, बोम्मई ने फिर उठाई एसआइटी जांच की मांग | Patrika News

हावेरी कांड लीपापोती कर दबाने के प्रयास का आरोप, बोम्मई ने फिर उठाई एसआइटी जांच की मांग

locationबैंगलोरPublished: Jan 15, 2024 12:51:57 am

Submitted by:

Sanjay Kumar Kareer

बोम्मई ने हुब्बली में आरोप लगाया कि हावेरी की नैतिक पुलिसिंग की घटना को दबाने के प्रयास किए गए हैं। बोम्मई ने कहा कि हावेरी में पुलिस ने हंगल की घटना को दबाने के लिए पीडि़तों को पैसे की पेशकश की।

bommai
बेंगलूरु. पूर्व मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने रविवार को आरोप लगाया कि पुलिस हावेरी में हुई घटना को दबाने के हथकंडे अपना रही है। उन्होंने फिर सवाल उठाया कि सरकार घटना की जांच के लिए विशेष जांच दल का गठन कब होगा।
बोम्मई ने हुब्बली में मीडिया से बात करते हुए यह आरोप लगाया कि हावेरी की नैतिक पुलिसिंग की घटना को दबाने के प्रयास किए गए हैं। बोम्मई ने कहा कि हावेरी में पुलिस ने हंगल की घटना को दबाने के लिए पीडि़तों को पैसे की पेशकश की। उन्होंने कहा कि सरकार को इस घटना की जांच के लिए एक विशेष जांच दल का गठन करना चाहिए।
बोम्मई ने कहा, स्थानीय पुलिस को भाजपा के महिला प्रतिनिधिमंडल के हावेरी दौरे की जानकारी मिलने के बाद जांच की आड़ में पीडि़ता को सिरसी शहर ले जाया गया था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इसी तरह की राजनीति करती रही है और उनसे और क्या उम्मीद की जा सकती है?
सिद्धरामय्या को बताया भ्रमित

राम मंदिर मुद्दे पर सीएम सिद्धरामय्या के यू-टर्न पर भाजपा नेता ने कहा, सीएम ने कहा था कि वे 22 जनवरी के बाद अयोध्या जाएंगे लेकिन बाद में इससे इनकार कर दिया। उनकी आंतरिक चेतना चाहती है कि वे अयोध्या जाएं लेकिन पार्टी आलाकमान ने कहा है नहीं जाओ। ऐसा लगता है कि सीएम भ्रम में फंस गए हैं। यह उनके भ्रम का सबूत है।

ट्रेंडिंग वीडियो