कपड़ों के नीचे छिपाकर महाराष्ट्र ले जा रही 1.80 करोड़ रुपए की शराब पकड़ी

कपड़ों के नीचे छिपाकर महाराष्ट्र ले जा रही 1.80 करोड़ रुपए की शराब पकड़ी

Manish Arora | Publish: May, 18 2019 11:20:19 AM (IST) | Updated: May, 18 2019 11:20:20 AM (IST) Barwani, Barwani, Madhya Pradesh, India

पचास से अधिक थाने और चैकिंग के बाद महाराष्ट्र बॉर्डर पर पुलिस ने पकड़ा, हिरार से मुंबई जा रहा था ट्रक, 2 गिरफ्तार

बड़वानी/सेंधवा. लोकसभा चुनाव के दौरान पुलिस चेकिंग के समय एक ट्रक में अवैध विदेशी शराब का परिवहन पकड़ा। पुलिस ने 1 करोड़ 8 0 लाख की विदेशी शराब जब्त कर 2 आरोपितों को हिरासत में लिया है। अवैध शराब को छुपाने के लिए आरोपितों ने शराब की पेटियों के ऊपर कपड़े के चिंदे डाल रखे थे। पुलिस ने तिरपाल हटाकर चिंदों के नीचे देखा तो अवैध शराब की पेटियां निकली। शराब से भरा ट्रक हरियाणा से मुंबई जा रहा था।
ग्रामीण थाना टीआई विश्वदीपसिंह परिहार ने बताया कि मुखबीर की सूचना के बाद नेशनल हाईवे पर चेकिंग के दौरान पुलिस ने क्रमांक जीजे-09-वाई-98 6 5 को रोका। चालक से पुलिस ने ट्रक में भरे माल की जानकारी ली, तो चालक ने बताया कि ट्रक में कॉटन के कपड़ों के टुकड़े भरे है। पुलिस ने जब दस्तावेज मांगे तो चालक ने नहीं दिखाए। इसके बाद पुलिस ने जांच की तो ट्रक में विदेशी शराब भरी हुई थी। पुलिस ट्रक को ग्रामीण थाना लेकर पहुंची। इसके बाद तिरपाल हटाया गया, तो सभी के होश उड़ गए। ट्रक में विदेशी शराब की पेटियां भरी हुई थी।
1 करोड़ 8 0 लाख की 940 पेटियां विदेशी शराब मिली
पुलिस ने जब ट्रक खाली कराया उसमें 4 ब्रांड की 940 पेटियां विदेशी शराब भरी हुई थी। इसके बाद पुलिस ने उत्तरप्रदेश के अमदाह निवासी अविनाश पिता विजय प्रकाश तिवारी और अंबेडकर नगर निवासी रामनारायण तिवारी को गिरफ्तार किया। दोनों आरोपितों ने बताया कि उन्हें तो शराब मुंबई तक पहुंचाने को कहा गया था। शराब किसकी है नहीं पता। पुलिस अब ट्रक मालिक और शराब के मालिक का पता लगाने में जुटी है। लोकसभा चुनाव में खरगोन संसदीय क्षेत्र में अवैध शराब के परिवहन का सबसे बड़ा मामला समाने आया है। हालांकि शराब हिसार से मुंबई जा रही थी। लोकसभा क्षेत्र में इस शराब की बिक्री की संभावना नहीं थी। जब्त शराब की कीमत 1 करोड़ 8 0 लाख रुपए है। वहीं ट्रक की कीमत 20 लाख रुपए है। कुल मशरूका की कीमत 2 करोड़ है।
ट्रक के ऊपर कपड़े के टुकड़े अंदर शराब
पुलिस और अन्य जांच चौकियों को गुमराह करने के लिए शराब माफिया ने नया तरिका अपनाया। ट्रक के पिछले हिस्से सहित ऊपर कपड़े के टुकड़ों के थैले रखे थे। माफिया ने पुलिस को चकमा देने के लिए कुछ हट के तरिका अपनाया, लेकिन सेंधवा पुलिस की सतर्कता से अवैध शराब का परिवहन पकड़ा गया। पूरे मामले में एक चौंकाने वाला तथ्य है कि हरियाणा के हिसार से सेंधवा के बीच 50 से अधिक थाने व चौंकियां है। ऐसे में ट्रक की जांच की जहमत किसी ने नहीं उठाई। कार्रवाई के दौरान प्रधान आरक्षक विवेक शर्मा, आरक्षक मुकेश गिरवाल, गौरव गौतम आदि का सहयोग रहा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned