चार दिनों में नही हुई आढ़त-प्रथा बंद तो करेंगे चक्काजाम

भाकिसं ने की आढ़त-प्रथा बंद करने की मांग, सांसद को सौंपा ज्ञापन

बड़वानी. भारतीय किसान संघ ने रविवार को सांसद गजेंद्र पटेल को ज्ञापन देकर आढ़त प्रथा को बंद करने की मांग की। आढ़त प्रथा को लेकर किसानों में भारी आक्रोश दिखा। किसानों का कहना था कि कई बार प्रशासन को आवेदन देने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। चार दिन में आढ़त प्रथा बंद नहीं हुई तो चक्काजाम और आंदोलन किया जाएगा।
भाकिसं तहसील अध्यक्ष ओमप्रकाश काग ने बताया कि किसानों द्वारा विगत दिनों में आढ़त-प्रथा के संबंध ने कई बार ज्ञापन एवं धरना प्रदर्शन भी किया जा चुका है, लेकिन जिला प्रशासन द्वारा आश्वासन देने के बाद भी आढ़त-प्रथा जो की कागजों पर बंद हो गई है। आज भी बड़वानी जिले में किसानों से 8 प्रतिशत आढ़त काटकर ही मूल राशि मिल रही है। कई किसानों के साथ खुलेआम लूटमार एवं धोखा हो रहा है। जबकि इंदौर जैसी बड़ी मंडियों में किसानों से आढ़त नहीं ली जाती है, तो बड़वानी मंडी में ही आढ़त क्यों ली जा रही है।
कई बार सौंपा है ज्ञापन
कई बार किसान संघ ने जिला प्रशासन को ज्ञापन दिया, लेकिन इसका निराकरण अधिकारियों द्वारा नहीं किया है। केवल औपचारिक तौर पर कागज पर ही इस प्रथा को बंद किया गया है। इसी से नाराज किसानों ने कलेक्टोरेट पहुंच कर सांसद को ज्ञापन दिया है। इस आढ़त प्रथा को 4 दिनों में बंद कराने की मांग की है। वहीं 4 दिनों में प्रथा बंद नही होती है, तो किसान संघ ने चक्काजाम करने की चेतावनी दी। सांसद ने इस प्रथा को बंद कराने की बात कही। साथ ही किसानों के साथ न्याय होने की बात कही।

मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned