भरतपुर: पुलिस के सामने ही पथराव व फायरिंग, एक घर व दो वाहनों में आग, एक दर्जन घायल

गांव सोलपुर में चुनावी हार जीत के कारण रविवार को एक बार फिर झगड़ा बढ़ गया। पुलिस के सामने ही पथराव व फायरिंग हुई, लेकिन भीड़ इतनी थी कि एक बार पुलिस को भी पीछे हटना पड़ा।

भरतपुर/कैथवाड़ा। गांव सोलपुर में चुनावी हार जीत के कारण रविवार को एक बार फिर झगड़ा बढ़ गया। पुलिस के सामने ही पथराव व फायरिंग हुई, लेकिन भीड़ इतनी थी कि एक बार पुलिस को भी पीछे हटना पड़ा। बाद में भारी पुलिस बल के पहुंचने पर स्थिति पर काबू पाया जा सका। इसमें एक मकान समेत दो वाहनों में भी आग लगा दी गई। झगड़े में करीब एक दर्जन लोग घायल हुए हैं।

जानकारी के अनुसार कैथवाडा में सरपंच पद के चुनाव में नौमान पक्ष से सबीला खान विजयी हुई थी, जबकि इसाक पक्ष का प्रतिनिधि हार गया था। गांव सोलपुर में इसाक पक्ष के इसराइल तथा नौमान पक्ष के सिरदार का घर आसपास में है। दोनों पक्षों में पुरानी रंजिश भी चल रही है। चुनाव में हार जीत के बाद शनिवार को दोनों पक्ष एक दूसरे से भिड़ गए थे, लेकिन पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों से समझाइश कर मामले को शांत करा दिया था।

इसके बाद रविवार को दोनों पक्ष एक बार फिर आमने-सामने हो गए तथा झगड़ा शुरू हो गया। झगड़ा इतना बढ़ गया कि सूचना पाकर कैथवाड़ा में रहने वाले इसाक पक्ष के समर्थक भी गांव सोलपुर पहुंच गए तथा झगड़े में शामिल हो गए। झगड़े में जबरदस्त पथराव एवं हवाई फायरिंग होने लगी।

बता दें कि शनिवार सुबह कस्बे के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में उपसरपंच को चुनने की प्रक्रिया चल रही थी। तभी अचानक गांव सोलपुर के लोगों को सूचना मिली कि उनके घर पर मौजूद महिलाओं पर हारे हुए प्रत्याशी पक्ष के लोगों ने हवाई फायरिंग व पथराव कर दिया।

इस पर वे लोग गांव सोलपुर की ओर जाने लगे तो कैथवाड़ा में मौजूद इसाक पक्ष के लोगों ने उनको बस स्टैंड के पास घेर लिया तथा उन पर हमला कर दिया। दोनों पक्षों के लोगों को आमने-सामने देखकर दुकानदार दुकानों को बंद कर भाग गए। पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर मामला शांत कराया।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned