कान्हा के धाम में रंग से सराबोर हुए धरती-आसमान

कान्हा के धाम में रंग से सराबोर हुए धरती-आसमान

Shyamveer Singh | Publish: Mar, 17 2019 09:50:56 PM (IST) Bharatpur, Bharatpur, Rajasthan, India

भरतपुर/गोवर्धन. समूचे ब्रज में अबीर-गुलाल और रंग की वर्षा से हर कोई सराबोर है। रंग भरनी एकादशी रविवार को मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर के साथ-साथ वृंदावन के बांकेबिहारी मंदिर, गोवर्धन परिक्रमा मार्ग में होली खेली गई। एक बार फिर से होली की मस्ती और होली के गीतों पर झूमते श्रद्धालु रंग-गुलाल में सराबोर नजर आए। किसी के हाथ में गुलाल तो किसी के हाथ अबीर।

भरतपुर/गोवर्धन. समूचे ब्रज में अबीर-गुलाल और रंग की वर्षा से हर कोई सराबोर है। रंग भरनी एकादशी रविवार को मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर के साथ-साथ वृंदावन के बांकेबिहारी मंदिर, गोवर्धन परिक्रमा मार्ग में होली खेली गई। एक बार फिर से होली की मस्ती और होली के गीतों पर झूमते श्रद्धालु रंग-गुलाल में सराबोर नजर आए। किसी के हाथ में गुलाल तो किसी के हाथ अबीर। यहां रंग के साथ फूल भी खूब बरसाए गए। श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर में करीब 150 फीट ऊंचे शिखर से श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर में अबीर-गुलाल की बरसात की गई तो पूरा आसमान रंगीन हो गया। ठाकुरजी के प्रसादी गुलाल में रंगने की भीड़ में होड़ लग गई। देशी ही नहीं बल्कि विदेशी भक्तों ने भी श्रीकृष्ण प्रेम में पगी होली का आनंद लिया।

 

महोत्सव का शुभारंभ काष्र्णि गुरू शरणानंद महाराज ने श्रीकृष्ण व राधा के बाल स्वरूप की आरती उतारकर किया। होली उत्सव में श्रीकृष्ण जन्म भूमि पर लाठियों की तड़तड़ाहट और सांस्कृतिक कार्यक्रमों में ब्रज की प्राचीन संस्कृति परिलक्षित हो उठी। इसके बाद रंगारंग कार्यक्रम आयोजित हुए। राजस्थान के कालबेलिया नृत्य की प्रस्तुति के साथ मयूर नृत्य, फूलों की होली, लठामार होली, चरकुला नृत्य, महारास आदि की प्रस्तुति दी गई। होली गायन के बीच चरकुला नृत्य व फूलों की होली के साथ जन्मस्थान परिसर में राधा जी के गांव रावल की हुरियारिनें लाठी फटकारिती हुई कूद पड़ीं। जब हुरियारिनों ने लठ बरसाने शुरू किए तो हुरियारों ने मोर्चा संभाल लिया। अठखेलियां खेलते हुए हुरियारे अपनी ढाल से हुरियारिनों के वार से बचते रहे। जन्मभूमि के सचिव कपिल शर्मा, सदस्य गोपेश्वर नाथ चतुर्वेदी आदि की ओर व्यवस्था देखीं गई। वहीं दूसरी ओर वृंदावन के बांकेबिहारी मंदिर और गोवर्धन परिक्रमा में रंग-गुलाल की होली खेली गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned