ड्रेन में गिरा एनएसपीसीएल का असि. मैनेजर, तलाश में जुटी एनडीआरएफ

किशोर ने दो साल पहले ज्वाइन किया एनएसपीसीएल.

By: Abdul Salam

Published: 02 Mar 2021, 12:20 AM IST

भिलाई. एनएसपीसीएल पॉवर प्लांट-2 में कार्यरत असिस्टेंट मैनेजर किशोर बाबू (29 साल) सोमवार को दूसरी पाली में 2 से 10 बजे तक की ड्यूटी करने पहुंचे थे। रात करीब 8 बजे वे कूलिंग वाटर में वायब्रेशन मॉनिटरिंग की जाती है, वही करने गए थे। वापसी में कूलिंग टावर वाक वे से आ रहे थे, उनके पीछे-पीछे हेल्पर भी आ रहा था। अचानक वाक वे का स्लेप टूटा और वे ड्रेन में गिर गए। हेल्पर ने देखा तो भागते हुए मौजूद अन्य अधिकारियों व कर्मियों को इसकी जानकारी दी। जिसके बाद एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंचकर युवा इंजीनियर की तलाश में जुट गई है।

ड्रेन में चार मीटर गहरा पानी
ड्रेन के भीतर से पानी तेज गती से बहता है, जिसकी गहराई करीब चार मीटर होती है। एनडीआरएफ की टीम को सूचना मिला तो उन्होंने पहुंचकर ड्रेन में तलाश करना शुरू किया। देर रात तक ड्रेन में कोई नहीं मिला है। इधर विभाग के सारे अधिकारी रात में ड्रेन के समीप युवा इंजीनियर की तलाश में लगी टीम पर नजर रखे हैं।

9 मीटर गहरे संप को किया जा रहा खाली
ड्रेन में किशोर नहीं मिलने से परेशाना एनडीआरएफ की टीम अब करीब 9 मीटर गहरे संप का पानी खाली करने में जुटी है। संपवेल का आधा पानी निकाला जा चुका है। यह तलाश रात 12 बजे के बाद भी जारी है। यहां से पानी कंडेसर में जाता है इसके बाद कूलिंग के लिए उपयोग होता है।

किशोर ने दो साल पहले ज्वाइन किया एनएसपीसीएल
किशोर ने 2018 में एनएसपीसीएल ज्वाइन किया है। व्यवहार बेहतर होने की वजह से सभी का चहेता है, उसके लिए विभाग के अधिकारी से लेकर कर्मचारी देर रात तक दुआ करते खड़े हुए थे। उसकी जानकारी नहीं मिलने से हर किसी के चेहरे में तनाव साफ नजर आ रहा था।

COVID-19
Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned