सशस्त्र लुटेरों का मंदिर पर धावा, दो चौकीदारों के हाथ-पैर बांध ले गए लाखों का माल

चंवलेश्वर पाश्र्वनाथ दिगम्बर अतिशय तीर्थ क्षेत्र चेनपुरा स्थित नाटी काकी मंदिर में शुक्रवार रात सशस्त्र लुटेरों ने धावा बोला

By: tej narayan

Published: 10 Feb 2018, 09:10 PM IST

काछोला/पारोली।

निकटवर्ती चंवलेश्वर पाश्र्वनाथ दिगम्बर अतिशय तीर्थ क्षेत्र चेनपुरा स्थित नाटी काकी मंदिर में शुक्रवार रात सशस्त्र लुटेरों ने धावा बोला। यहां नकाबपोश लुटेरों ने दो चौकीदारों के हाथ-पैर बांधकर मंदिर से नकदी समेत लाखों का माल ले गए। घटना से जैन समाज में आक्रोश व्याप्त हो गया। काछोला थाना पुलिस ने मामला दर्ज किया।

 

READ: REET Exam -2018 : बेटियां घर में तो बेटे बाहर के जिलों में देंगे परीक्षा

 

जानकारी के अनुसार रात डेढ़ बजे कार में सवार होकर आए चार लुटेरे तलवार व सरिए लेकर चेनपुरा स्थित चंवलेश्वर पाश्र्वनाथ मंदिर पहुंचे। नाटी काकी मंदिर के बाहर चौकीदारी कर रहे धनवाड़ा (पारोली) निवासी भैरूलाल गुर्जर व सोहनदास वैष्णव को धमकाया। उनसे मंदिर की चॉबी मांगी। नहीं देने पर दोनों से मारपीट कर जान से मारने की धमकी दी। इससे दोनों चौकीदार डर गए। इस दौरान भैरूलाल का साफा फाड़कर दोनों के हाथ-पैर बांध दिए। मुंह में कपड़ा ढूंस दिया।

 

READ: दिल्ली की लैब में कराते हैं पोषाहार की जांच, आधी रिपोर्ट आती ही नहीं


बिस्तर के नीचे से निकाली चॉबी

मंदिर के बाहर चौकीदारों के बिस्तर के नीचे से चॉबी निकाल ली। मंदिर का ताला खोलकर दोनों चौकीदारों को लुढ़का कर मंदिर के अंदर ले गए। मंदिर से तीन चांदी के छत्र, एक कलश, एक सिंघासन एवं दानपात्र तोड़कर उससे नकदी ले गए। जाते हुए चौकीदारों की जेब से मोबाइल व सौ रुपए लेकर भाग गए। करीब 20 से 25 मिनट तक लुटेरों ने मंदिर में तांडव मचाया।


बमुश्किल खोला साफा, ग्रामीणों को दी जानकारी

लुटेरों के जाने के बाद एक घण्टे तक चौकीदार अंदर ही पड़े रहे। जैसे-तैसे एक-दूसरे के दोनों ने हाथ-पैर पर बंधा साफा खोला। उसके बाद रात तीन बजे चेनपुरा पहुंच कर ग्रामीणों को जानकारी दी। तड़के चार बजे माण्डलगढ़ पुलिस उपाधीक्षक राजेन्द्रसिंह नेन व काछोला थानाप्रभारी राजेन्द्रसिंह सोलंकी वहां पहुंचे। घटनास्थल का मुआयना कर क्षेत्र में नाकाबंदी करवाई गई।

 

मंदिर के बाहर जमा हुए लोग

मंदिर निर्माण कमेटी सहायक अध्यक्ष प्रकाश कासलीवाल, मंत्री कैलाश गोधा, कोषाध्यक्ष भागचंद बंसल चंवलेश्वर पाश्र्वनाथ नाटी काकी मंदिर पहुंचे और वारदात की जानकारी ली। भोर होते ही बड़ी संख्या में जैन समाज के लोग वहां जमा हो गए। उन्होंने आक्रोश जताते वारदात का राजफाश करने की मांग की। जिला मुख्यालय से एफएसएल टीम को भी बुलाया गया। पुलिस अधिकारियों ने लोगों को समझाइश कर शीघ्र राजफाश करने का आश्वासन दिया। डीएसपी नेन के निर्देशन में विशेष टीम का गठन किया गया। पुलिस जरामपेशा वर्ग के लोगों से पूछताछ कर रही है। वहीं इस तरह की वारदात में शामिल ने पुराने अपराधिक लोगों का रिकॉर्ड भी खंगाला जा रहा है।

tej narayan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned