controversial पुलिस कैलेंडर: मोहन भागवत और अमित शाह की फोटो, विवादों में आए IPS अफसर

यह कैलेंडर नशे के खिलाफ जागरुकता फैलाने के लिए प्रकाशित किए गए।

By: दीपेश तिवारी

Published: 09 Nov 2017, 06:30 PM IST

भोपाल। MP के एक वरिष्ठ आईपीएस अफसर एक सरकारी कैलेंडर की वजह से इन दिनों विवादों में फंस गए हैं। जानकारी के अनुसार नारकोटिक्स विंग में पदस्थ एडीजी वरुण कपूर ने विभाग के कैलेंडर में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के अलावा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीरों के साथ उनके विचारों को प्रकाशित किया गया है।

दरअसल, मध्य प्रदेश पुलिस की नारकोटिक्स विंग ने पिछले दिनों 'नशा विरोध' एक कैलेंडर जारी किया था। यह कैलेंडर नशे के खिलाफ जागरुकता फैलाने के लिए प्रकाशित किए गए। वहीं इस कैलेंडर में आरएसएस प्रमुख और भाजपा अध्यक्ष की तस्वीरें और उनके संदेश की बात सामने आने पर बवाल मच गया है।

सूत्रों के मुताबिक वरुण कपूर के कैलैंडर की तस्वीरों को फेसबुक पर शेयर करने के बाद यह सारा बवाल शुरू हुआ है। उन्होंने कैलेंडर के हर महीने की फोटो फेसबुक पर पोस्ट की, जिसके बाद पुलिस के कैलेंडर में मोहन भागवत और अमित शाह के फोटो प्रकाशित होने का खुलासा हुआ।
कांग्रेस ने इस मुद्दे को लेकर एमपी पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए है। वहीं भाजपा इस मामले में बचाव की मुद्रा में नजर आ रही है, इस संबंध में वरुण कपूर से तमाम कोशिशों के बावजूद संपर्क नहीं हो सका।

कांग्रेस की ओर से विरोध करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी का कहना है कि यह चौंकाने वाला है कि पुलिस अधिकारी राजनीतिक दलों के काम कर रहे हैं। कैलेंडर यह स्पष्ट करता है कि पुलिस विभाग को भगवा बनाया गया है।

इसके अलावा इस मामले में कैलेंडर को लेकर वरिष्ठ आरटीआई कार्यकर्त्ता अजय दुबे ने आपत्ति जताई है, उन्होंने कहा है भाजपा नेताओं को खुश करने के लिए सार्वजनिक पैसा बर्बाद किया जा रहा है।

इधर मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, डीजीपी ऋषि कुमार शुक्ला ने भी इस बात को लेकर काफी नाराज बताए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं होना चाहिए।

Amit Shah
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned