9 बजे 9 मिनट: कोरोना की लड़ाई में जल उठे उम्मीदों के दीप, हर जगह दिखा दिवाली जैसा नजारा

- कोरोना की लड़ाई में पूरा देश हुआ एकजुट, प्रदेशवासियों ने भी मिलकर जलाए दीये...।

By: Ashtha Awasthi

Updated: 05 Apr 2020, 10:37 PM IST

भोपाल। देशभर के साथ मध्यप्रदेश मे भी रविवार रात 9 बजे अलग ही नजारा था। लोगों ने अपने घरों की छत पर और बालकनी में दिये जलाकर दुनियाभर में फैली महामारी के खिलाफ एकजुटता का संदेश दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को 5 अप्रैल को रात 9 बजे से 9 मिनट तक दिये, मोमबत्ती और मोबाइल की टार्च जलाने की अपील की थी।

पूरे मध्यप्रदेश में चेत्र में ही दीपावली सा नजरा देखने को मिला। प्रदेश के सभी जिलों से खबर आ रही है कि लोगों ने 9 मिनट तक अपने घरों की छत पर, बालकनी में दिये और मोमबत्ती जलाई। किसी ने मोबाइल टार्च से भी अंधेरे में रोशनी कर एकजुटता प्रदर्शित की।

मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, मध्यप्रदेश भाजपा के अध्यक्ष वीडी शर्मा समेत बड़ी संख्या में नेताओं ने भी अपने-अपने घरों की लाइटें बंद कर घर के बाहर रोशनी की।

इधर, भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया, पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती, विधायक रामेश्वर शर्मा, पूर्व महापौर आलोक शर्मा समेत अनेक भाजपा नेताओं ने भी अपने-अपने घरों के बाहर रौशनी कर कोरोना रूपी अंधकार से जीतने का संकल्प लिया।

 

photo6075397881084357067.jpg

कोरोना योद्धाओं से कहा थैंक्यू

लोगों ने इस आयोजन में भाग लेकर कोरोना के खिलाफ फ्रंट लाइन में काम करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों, पुलिसकर्मियों, सफाईकर्मी एवं मीडियाकर्मियों का आभार व्यक्त किया। भोपाल के एयरपोर्ट रोड स्थित पंचवटी कालोनी के रहवासियो ने दीयो से इंडिया लिखकर डाक्टर, पीएम नरेंद्र मोदी, सफाईकर्मी, पुलिस और मीडियाकर्मियों को थैंक्यू कहा।

 

photo6075397881084357071.jpg

प्रधानमंत्री की इस अपील का संबंध ज्योतिषशास्त्र से भी बताया जाता है। ऐसा करने के लिए 9 बजे और 9 मिनट चुनने का कारण मंगल का दोहरा प्रभाव है। मंगल साहस, पराक्रम, एकजुटता और एकाग्रता का प्रतीक होता है। यह हमारी उच्च इच्छा शक्ति और शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, जिससे हम बड़ी समस्याओं को मात दे सकते हैं। इस मौके पर देखिए तस्वीरें...

photo6075397881084357066.jpg

वहीं दूसरी ओर रविवार सूर्य का दिन होता है। सूर्य नवग्रह का अधिपति है। समस्त ग्रह सौर ऊर्जा से ही प्रभावित हैं। सूर्य दीपक या प्रकाश का प्रतीक है, अतः 5 अप्रैल को रात्रि 9 बजे से 9 मिनट तक यमघण्ट काल को करोड़ों प्रज्वलित दीपक सूर्य को बल प्रदान करते हैं। इससे सारे दुख हर जाते हैं। इस मौके पर देखिए तस्वीरें...

14.jpg

351 मोमबत्तियों से लिखा 'गो कोरोना गो'

भोजपुरी एकता मंच के अध्यक्ष कुंवर प्रसाद के मुताबिक भोपाल के गांधीनगर स्थित महर्षि पतंजलि परिसर कोरोना महामारी पर विजय के लिए संकल्प लेकर 'एक दिया देश के नाम' लगाया। इस प्रकाश पर्व के मौके पर 'गो कोरोना गो' को लिखने के लिए 351 कैंडल का इस्तेमाल किया। 9 बजते ही सभी प्रज्वलित कर दिए गए।

12_1.jpg

राज्यपाल टंडन ने प्रकाशित किए संकल्प के दीप

राज्यपाल लाल जी टंडन ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव और नियंत्रण के चल रहे उपायो के बीच बड़े संकल्प के साथ कोरोना को हराने के लिए आज राजभवन में दीप जलाकर संकट से निपटने की राष्ट्रीय एकता की प्रतिबद्धता प्रदर्शित की। राजभवन के रहवासी परिवारों ने भी 9 बजे रात्रि को 9 मिनट दीप जलाकर राष्ट्रीय एकता के संकल्प को नई शक्ति और ऊर्जा प्रदान की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की अपील देश की एकता को और अधिक मजबूती प्रदान करने का अवसर है। यह बड़े संकल्प के साथ एकता का सूत्र बांधने का संकल्प है।

coronavirus What is Coronavirus? BJP Coronavirus in india
Show More
Ashtha Awasthi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned