महिला आयोग पहुंची युवती, बात सुनकर हर कोई रह गया हैरान...

महिला आयोग पहुंची युवती, बात सुनकर हर कोई रह गया हैरान...

Deepesh Tiwari | Updated: 27 Jan 2018, 11:09:46 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

युवती ने लगाए ससूराल वालों पर आरोप,कहा- पिता की आर्थिक स्थिति नहीं थी ठीक इस कारण नहीं दे पाए।

भोपाल। समाज में दहेज की प्रथा कई लोगों का जीवन बर्बाद कर चुकी है, इसके बावजूद इस पर अब तक लगाम नहीं लगाई जा सकी है। ऐसा ही एक मामला भोपाल में सामने आया है। जहां एक युवती ने आरोप लगाया है कि उसके ससूराल वालों ने उसे घर से केवल इसलिए निकाल दिया क्योंकि उसके पिता आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण उनकी कुछ डिमांड पूरी नहीं कर सके।

पीड़िता के मुताबिक पिताजी ने मेरी शादी में ससुराल वालों को कुछ रुपए नकदी, सोने की चेन और अंगूठी देने की बात की थी। लेकिन, आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण वे यह सब नहीं दे पाए। इसलिए शादी के बाद ससुराल वालों ने मुझे घर से निकाल दिया।

न्याय के लिए पति समेत ससुराल वालों के खिलाफ यह शिकायत कोलार निवासी अंजना कुमरे (परिवर्तित नाम) ने महिला आयोग में दर्ज कराई।

युवती ने आरोप लगाया कि मई 2016 में उसकी शादी छिंदवाड़ा में हुई थी। इसके बाद उससे सोने की चेन, अंगूठी और दहेज की डिमांड की जाने लगी। इसे पूरा नहीं करने पर उसे कमरे में बंद कर दिया गया। उसे किसी से भी बात करने की इजाजत नहीं थी।

शादी के दो माह बाद ही पति कैलाश और ससुराल वालों ने दहेज के लिए उसे घर से ही निकाल दिया। उसके साथ मारपीट कर उसे छिंदवाड़ा स्टेशन छोड़कर चले गए। अनिता ने बताया कि वो डेढ़ साल से महिला मायके में रह रही है। पति को फोन लगाओ तो वह बात तक नहीं करता है। सास-ससुर कहते हैं कि जब तक दहेज नहीं लाएगी, तब तक घर में कदम तक नहीं रखने देंगे। आयोग की सदस्य गंगा उइके ने कहा कि मामला गंभीर है, इसलिए इसे आगामी सुनवाई में रखा जाएगा।

कांग्रेस पार्षद के रिश्तेदार का पेंच:
इंदौर निवासी रेहाना बी (परिवर्तित नाम) ने कांग्रेस पार्षद के रिश्तेदार के खिलाफ महिला आयोग में शिकायती आवेदन दिया। इसमें उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्षद का रिश्तेदार असलम खान उसे परेशान करता है।

वो कहीं भी रास्ता रोककर उसके साथ छेड़छाड़ करता है और विरोध करने पर खुद को पार्षद अनवर खान का रिश्तेदार बताकर जान से मारने की धमकी देता है। महिला के मुताबित उसके पति ने उसे समझाया तो उन्हें भी जान से मारने की धमकी दी गई। शबाना ने महिला आयोग में कहा कि असलम की पहुंच राजनीतिक लोगों से है, इसलिए उसकी जान को खतरा है। शबनम ने थाने में भी शिकायत दर्ज कराई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned