scriptflood in madhya pradesh heavy rainfall many district | flood: नर्मदा, ताप्ती और बेतवा का जल स्तर बढ़ा, बाढ़ से घिर गए कई जिले | Patrika News

flood: नर्मदा, ताप्ती और बेतवा का जल स्तर बढ़ा, बाढ़ से घिर गए कई जिले

मध्यप्रदेश में लगातार जारी भारी बारिश के कारण प्रदेश की नदियां उफान पर...। प्रदेशभर में अलर्ट...।

भोपाल

Updated: July 12, 2022 09:29:19 am

भोपाल। मध्यप्रदेश में पिछले कुछ दिनों से जारी लगातार बारिश के बाद कई जिलों में बाढ़ के हालात हैं। सबसे ज्यादा प्रभावित नर्मदापुरम, विदिशा, रायसेन और छिंदवाड़ा हो रहे हैं। प्रदेश की प्रमुख नदियां नर्मदा, ताप्ती और बेतवा नदी उफान पर आ गई है। राजधानी भोपाल में भी कई कॉलोनियां जलमग्न हो गई हैं, लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

flood3.jpg
,,

मध्यप्रदेश में भारी बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ है। कई जिलों में नदी-नाले उफान पर हैं। प्रदेश की सबसे बड़ी नदी नर्मदा, ताप्ती और बेतवा नदी का जल स्तर काफी बढ़ गया है। इन नदियों के किनारे रहने वाले लोगों को अलर्ट किया गया है। क्योंकि डैम खुलने की स्थिति में इन नदियों में बाढ़ आ जाती है।

नर्मदा और ताप्ती नदी का जल स्तर बढ़ने लगा

नर्मदापुरम से खबर है कि रविवार से सोमवार तक 4.4 इंच अधिक बारिश होने से निचली बस्तियों में पानी घुस गया है। वहीं नर्मदा का जल स्तर सेठानी घाट पर 935.50 फीट से बढ़कर 9.38.30 हो गया है। यह स्थिति तवा डैम के गेट खोलने के कारण बनी है। बताया जाता है कि यहां जब भी तवा, बारना और बरगी डैम के गेट खोले जाते हैं तो नर्मदा नदी में बाढ़ आ जाती है। यह डैम पहले से ही पूरे भर चुके हैं, जिसमें से लगातार थोड़ा-थोड़ा पानी छोड़ा जा रहा है। इधर, मुलताई से निकली ताप्ती नदी का जल स्तर भी लगातार बढ़ रहा है। प्रशासन ने इन नदियों के किनारे रहने वाले लोगों को अलर्ट कर दिया है।

flood11.jpg

विदिशा में तबाही

लगातार बारिश से विदिशा जिले में साढ़े तीन घंटे में ही साढ़े आठ इंच बारिश होने से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। कई कालोनियां जलमग्न हो गई है और घरों में भी पानी घुस गया है। बताया जा रहा है कि पिछले 25 सालों में यह सबसे अधिक बारिश है। कई निचली बस्तियों में रेस्क्यू आपरेशन भी चलाया गया है। विदिशा में एक कार और आटो के बहने की भी खबर है।

रायसेन में भी उफनी नदियां

इधर रायसेन जिले में भी नदी-नाले उफान पर आ गए हैं। कई गांवों का सड़क संपर्क टूट गया है। लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचने को कहा गया है। बताया जा रहा है कि अभी और भी भारी बारिश की संभावनाओं को देखते हुए अलर्ट जारी किया गया है।

छिंदवाड़ा में पांच घंटे बंद रहा रास्ता

छिंदवाड़ा से खबर है कि नदी-नाले उफान पर होने से नागपुर हाईवे बंद रहा। यहां रामाकोना के पास गहरानाला उफान पर है। यहां पांच घंटे तक राजमार्ग बंद रहा। इसके अलावै सौंसर में 48 घंटों से जारी लगातार बारिश से 15 इंच पानी गिर चुका है। यहां भी बाढ़ जैसे हालात हैं। छिंदवाड़ा से जुड़े आसपास के करीब 50 गांवों का सड़क संपर्क भी टूट गया है।

भोपाल में तीन इंच से ज्यादा बारिश

राजधानी भोपाल की बात करें तो यहां भी तेज बारिश का दौर जारी है। पिछले दो दिनों में 10 इंच बारिश हो चुकी है। राजधानी के कई इलाके जलमग्न हो गए हैं. कालोनियों में पानी ही पानी नजर आ रहा है।

फ्लाइट डायवर्ट

भोपाल आने वाली कई फ्लाइट पर भी मौसम का असर पड़ा है। दिल्ली, मुंबई से भोपाल आने वाली फ्लाइट को सोमवार को इंदौर डायवर्ट कर दिया गया था। मंगलवार को भी मौसम गड़बड़ रहा तो फ्लाइटों पर असर देखा जा सकता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon : राजस्थान में 3 अगस्त से बारिश का नया सिस्टम, पूरे प्रदेश में होगी झमाझमNSA डोभाल की मौजूदगी में बोले मुस्लिम धर्मगुरु- 'सर तन से जुदा' हमारा नारा नहीं, PFI पर प्रतिबंध की बनी सहमतिकीमत 4.63 लाख रुपये से शुरू और देती हैं 26Km का माइलेज! बड़ी फैमिली के परफेक्ट हैं ये सस्ती 7-सीटर MPV कारेंराजस्थान में भारी बारिश का दौर जारी, स्कूलों की तीन दिन की छुट्टी, आज इन जिलों में झमाझम की चेतावनीWeather Update: राजस्थान में झमाझम बारिश को लेकर अब आई ये खबरराजस्थान में आज यहां होगी बारिश, एक सप्ताह तक के लिए बदलेगा मौसमएमपी में 220 करोड़ से बनेगा 62 किमी लंबा बायपास, कम हो जाएगी कई शहरों की दूरी, जारी हो गए टेंडरसरकारी नौकरी लगवा देंगे कहकर 10 युवाओं को लगाई 75 लाख रुपए की चपत, 2 गिरफ्तार

बड़ी खबरें

Vice President Election Result: जगदीप धनखड़ बने देश के 16वें उपराष्ट्रपति, मार्गरेट अल्वा को 346 वोटों से हरायाराजस्थान के इस गांव में बीता जगदीप धनखड़ का बचपन, परिवार के रुतबे की गवाह है पुश्तेनी हवेलीबिहारः JDU को डूबता हुआ जहाज बता RCP सिंह ने दिया इस्तीफा, मंत्री रहते अकूत संपत्ति अर्जित करने का लगा है आरोपवो आवाज केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की नहीं...CWC 2022: खाने को नहीं थी रोटी, आर्मी में रहकर की देश की सेवा; अविनाश साबले ने स्टीपलचेज में जीता रजत पदकIND vs WI 4th T20: भारत ने वेस्टइंडीज को जीत के लिए दिया 192 रनों का लक्ष्यफिर से PM मोदी की मीटिंग में शामिल नहीं होंगे CM नीतीश कुमार, इस बार नीति आयोग की बैठक से बनाई दूरीMaharashtra Politics: बीजेपी विधायक नितेश राणे का बड़ा बयान, बोले- महाराष्ट्र संविधान से चलेगा, शरिया कानूनों से नहीं
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.