राज्यपाल का अभिभाषण प्रदेश के लिए नहीं, मीडिया के लिए : कमलनाथ

हमने संसदीय परंपराओं का पालन किया

 

By: Arun Tiwari

Published: 22 Feb 2021, 06:56 PM IST

भोपाल : विधानसभा में हुए राज्यपाल के अभिभाषण पर नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ ने मीडिया से चर्चा में कहा कि आज मुझे राज्यपाल जी पर दया आती है कि उन्हें ऐसा भाषण पढऩा पड़ा जो मीडिया के लिए है ,प्रदेश के लिए नहीं है। आप गिनेंगे कि कितनी चीजें प्रस्तावित है , इन्होंने 15 साल में 15 हजार प्रस्तावित योजनाएं की थी , उनका कोई नामोनिशान आज नहीं है। यह तो प्रदेश की जनता को गुमराह करने का काम है ,जो सही बात कहनी थी कि महिलाओं पर आज कितना अत्याचार हो रहा है,आज किसानों की क्या स्थिति है, आज बेरोजगारों की क्या स्थिति है , उस पर तो बात की नहीं है। प्रवासी मजदूरों की बात की कि हमने मजदूरों को इतना पैसा दिया, उनके खाने का प्रबंध किया जबकि सच्चाई सभी ने देखी है कि किस प्रकार हजारों भूखे- प्यासे प्रवासी मजदूर, नंगे पैर ,कई किलोमीटर चल कर वापस प्रदेश लौटे हंै ,सब ने देखा कि मजदूरों का क्या हाल था।

सरकार के नजरिए में हमारा कृषि क्षेत्र नहीं है और यही कृषि क्षेत्र है जो मध्य प्रदेश का भविष्य है। राज्यपालजी ने इतनी बार पीएम का जिक्र किया कि मै तो समझा मै लोकसभा में हूँ। कमलनाथ ने कहा कि जब मैं कोरना की बात करता था तो शिवराज जी मजाक उड़ाते थे, कहते थे कि इनके लिए कोरोना डरोना है और राज्यपाल जी के अभिभाषण में कोरोना पर अपनी उपलब्धियाँ बता रहे हैं।

स्पीकर गिरीश गौतम को बधाई :
कमलनाथ ने कहा कि हम संसदीय परंपराओं का आदर करते हैं, उसका सम्मान करते हैं, हम भाजपा की नकल नहीं करना चाहते हैं ,जो कोई परंपरा ,कोई सिद्धांत का पालन नहीं करती है, इसीलिए हमने तय किया था कि हम विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव सर्वसम्मति से करवाएंगे और यही हमारी सोच है, यही हमारी दृष्टि है। कमलनाथ ने कहा कि वरिष्ठ विधायक गिरीश गौतम को मध्यप्रदेश विधानसभा का अध्यक्ष निर्वाचित होने पर हार्दिक बधाई व शुभकामनाएँ। उम्मीद है आपका दीर्घकालिक संसदीय अनुभव ,लोकतांत्रिक मूल्यों व संसदीय परंपराओं को स्थापित कर, सदन के संचालन में महती भूमिका का निर्वहन करेगा।

महिलाओं की सुरक्षा में नाकामी :
कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश में बहन- बेटियों के साथ दरिंदगी की घटनाएँ लगातार जारी हैं। अब प्रदेश के शहडोल के जैतपुर थाना क्षेत्र में एक बेटी के साथ गैंगरेप की घृणित घटना सामने आयी है। आरोपियों में भाजपा के पदाधिकारी का भी नाम है, ऐसे में बहन- बेटियों की सुरक्षा कैसे होगी। बहन- बेटियों को सुरक्षा देने में पूरी तरह से शिवराज सरकार नाकाम रही है।

तेल पर टैक्स कम करे सरकार :
कमलनाथ ने कहा कि जब राजस्थान, असम, पश्चिम बंगाल , मेघालय की सरकार अपने प्रदेश में जनता को राहत प्रदान करने के लिए पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले करों में कमी कर सकते हंै तो मोदी सरकार व प्रदेश की शिवराज सरकार जनता को राहत प्रदान करने के लिये क्यों करों में कमी नहीं कर रही है। आखिर कब तक यूँ ही भाजपा सरकार अपना खजाना भरती रहेगी और जनता को यूँ ही लूटती रहेगी।

सीएम ने की कमलनाथ से मुलाकात :
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नेता प्रतिपक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से उनके निवास पर जाकर मुलाकात की। सीएम ने नेता प्रतिपक्ष से उनके स्वास्थ्य का हालचाल जाना। रविवार को इंदौर में एक अस्पताल में हुए लिफ्ट हादसे में कमलनाथ समेत अन्य कांग्रेस नेता फँस गये थे। सीएम ने कहा कि ये गंभीर घटना है। इस पूरी घटना की जांच की जाएगी साथ ही सभी सरकारी भवनों की लिफ्ट की देखरेख के निर्देश दिए जा रहे हैं। सीएम ने कहा का की कोई लिफ्ट में बैठे और लिफ्ट रुक जाए या टूट जाए तो ये बहुत गंभीर बात है। इन बातों को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। वहीं कमलनाथ ने एक फोटो पोस्ट की और लिखा कि हनुमान जी की कृपा सदा से रही है। जय हनुमान

mp kamalnath
Arun Tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned