नाबालिग बच्चियों से अपराध में एमपी पहले स्थान पर, प्रदेश में 8.8 फीसदी बढ़ा क्राइम

देश में IPC में दर्ज अपराधों के मामले में मध्यप्रदेश तीसरे स्थान पर है।

भोपाल. मध्यप्रदेश में महिलाओं के अपराध में वृद्धि हुई है। महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध में पूरे देश में यूपी पहले स्थान पर है। यह जानकारी राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) द्वारा जारी किए गए रिपोर्ट के आधार पर मिली है। एनसीआरबी ने 2017 में देश में हुए अपराधों की को लेकर रिपोर्ट जारी की है। बता दें कि 2017 में मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह की सरकार थी। 2015 से 2017 की तुलना में मध्यप्रदेश में अपराध बढ़ें हैं। बता दें कि राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो, गृह मंत्रायल के अधीन कार्य करती है।

2017 में मध्यप्रदेश में 5599 महिलाओं के साथ ज्यादती हुई है। महिलाओं से अपराध का आंकड़ा तब और शर्मनाक हो जाता है जब 3082 मासूम और नाबालिग बच्चियों के साथ शर्मनाक घटनाएं घटी हो। एक साल में 3 हजार से ज्यादा मासूसों के साथ घटनाओं के मामले में मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है। मध्यप्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अपराध में 8.3 फीसदी की वृद्धि हुई है। जबकि ओवर ऑल क्राइम की बात करें तो मध्यप्रदेश में 8.8 फीसदी क्राइम में वृद्धि हुई है। मध्य प्रदेश में स्थिति खराब हुई है। मध्य प्रदेश में महिलाओं के प्रति अपराध के दर्ज मामलों की संख्या साल 2015 में 24 हजार 231, 2016 में 26 हजार 604 थी। वहीं 2017 में 29 हजार 788 मामले दर्ज किए गए।

IPC Crimes 2015-2017

मध्यप्रदेश में क्राइम ( फीसदी ) साल 2015 साल 2016 साल 2017
8.8 फीसदी वृद्धि 268614 264418 269512

SLL Crimes 2015-2017

मध्यप्रदेश में क्राइम ( फीसदी ) साल 2015 साल 2016 साल 2017
5.7 फीसदी वृद्धि 89891 100736 110170

Total IPC & SLL Crimes 2015-2017

मध्यप्रदेश में क्राइम ( फीसदी ) साल 2015 साल 2016 साल 2017
7.6 फीसदी वृद्धि 358505 365154 379682

एनसीआरबी के आंकड़ों के मुताबिक साल 2017 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के 3,59, 849 मामले दर्ज किए गए हैं। महिलाओं के खिलाफ अत्याचार के सबसे अधिक मामले उत्तर प्रदेश (56,011) में दर्ज किए गए हैं। उसके बाद महाराष्ट्र में 31,979 मामले दर्ज किए गए। जबकि पश्चिम बंगाल में 30,992 और मध्य प्रदेश में 29,778, राजस्थान में 25,993 और असम में 23,082 महिलाओं पर हुए अपराध के मामले दर्ज किए गए हैं।

महिलाओं के खिलाफ अपराध लगातार तीसरे साल वृद्धि
एनसीआरबी के आंकड़ों के मुताबिक देशभर में 3,59,849 मामले दर्ज किए गए। महिलाओं के खिलाफ अपराधों में लगातार तीसरे साल वृद्धि हुई है। 2015 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के 3,29,243 मामले दर्ज किए गए थे और 2016 में 3,38,954 मामले दर्ज किए गए थे।

Show More
Pawan Tiwari
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned