कांग्रेस का ये दिग्गज नेता करेगा अब तक की सबसे बड़ी धार्मिक यात्रा, बढ़ सकती है भाजपा की मुश्किलें

कांग्रेस का ये दिग्गज नेता करेगा अब तक की सबसे बड़ी धार्मिक यात्रा, बढ़ सकती है भाजपा की मुश्किलें

Manish Gite | Publish: Sep, 12 2018 05:50:06 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

कांग्रेस का ये दिग्गज नेता करेगा अब तक की सबसे बड़ी धार्मिक यात्रा, बढ़ सकती है भाजपा की मुश्किलें


भोपाल। मध्यप्रदेश में चुनावी घमासान के बीच कांग्रेस के दिग्गज नेता ने अब सबसे बड़ी धार्मिक यात्रा धार्मिक यात्रा करने का ऐलान किया है। इससे पहले वे नर्मदा परिक्रमा करके सुर्खियों में आ गए थे।

जी हां मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह नर्मदा यात्रा के बाद अब कैलाश मानसरोवर की यात्रा करने जा रहे हैं। उन्होंने इस संबंध में एक ट्वीट भी जारी किया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि मैं भी मानसरोवर यात्रा पर जरूर जाउंगा। संभवत अगले वर्ष। गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी के मुताबिक राहुल गांधी ने 35 किलोमीटर पैदल यात्रा की। यह यात्रा उन्होंने सात घंटे में पूरी की। धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक कैलाश मानसरोवर को सबसे बड़ी धार्मिक यात्रा भी माना जाता है।

 

3300 किमी की यात्रा कर चुके हैं दिग्विजय
मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कुछ माह पहले नर्मदा परिक्रमा का संकल्प लिया था। उन्होंने अपनी दूसरी पत्नी अमृता राय के साथ 3300 किलोमीटर की लंबी पैदल यात्रा की थी। उनकी यह यात्रा सितंबर 2017 में शुरू होकर फरवरी में खत्म हुई थी। हालांकि इस यात्रा को उन्होंने राजनीतिक न होकर सिर्फ धार्मिक यात्रा बताया था। इस बीच उन्होंने कोई राजनीतिक बयान भी नहीं दिया था।

 

digvijay singh

यात्रा में क्या था खास
दिग्विजय सिंह की यह गैर राजनीतिक यात्रा थी, लेकिन उन्होंने 230 विधानसभा सीटों में से 110 सीटों का दौरा कर लिया। माना जा रहा है कि उन्होंने इस दौरान कई पुराने कांग्रेसी मित्रों, साथियों के साथ मेलमुलाकात भी की थी। उन्होंने कई दावे भी किए थे कि नर्मदा की हालत बीजेपी शासनकाल में खराब हो गई है।

राहुल के नक्शे कदम पर दिग्विजय
मध्यप्रदेश में ढाई माह बाद विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। ऐसे में दिग्विजय सिंह की हर बातों को चुनाव से जोड़कर भी देखा जा रहा है। माना जा रहा है कि वे अब पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के नक्शे कदम पर चलने जा रहे हैं। उनका कहना है कि वे अगले साल कैलाश मानसरोवर की यात्रा पर जाएंगे। दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश में कांग्रेस की समन्वय समिति के चेयरमैन हैं और वे इन दिनों मध्यप्रदेश में पुराने कांग्रेसियों के साथ समन्वय स्थापित कर रहे हैं और चुनाव प्रचार भी करने में जुटे हैं।

 

ट्वीट कर जाहिर की मन की इच्छा
दिग्विजय ने ट्वीट कर अपने मन की इच्छा जाहिर की है। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा है कि मानसरोवर, मैं भी निश्चित रूप से यह यात्रा करूंगा। संभवतः अगले साल वहां जाउंगा।
https://twitter.com/digvijaya_28/status/1039002616624074753



कांग्रेस ने भी खेला हिन्दू कार्ड
इधर, चुनाव का माह नजदीक आ रहा है, ऐसे में कांग्रेस और बीजेपी में एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप भी बढ़ गए हैं। इस बीच बीजेपी से मुकाबले के लिए कांग्रेस ने भी धर्म का सहारा लेना शुरू कर दिया है। उसने भी हिन्दी कार्ड खेलना शुरू कर दिया है। हाल ही में दिग्विजय ने गोशाला बनवाने के वायदे के बाद अब कांग्रेस ने राम पथ के निर्माण की बात कही है। उन्होंने कहा है कि हम सत्ता में आए तो मध्य प्रदेश की सीमा तक राम पथ का निर्माण कराएंगे। दिलचस्प बात यह है कि अब तक कांग्रेस पार्टी भाजपा को हिन्दुत्व की राजनीति के लिए घेरती आ रही है, लेकिन चुनाव से ऐन पहले कांग्रेस ने भी हिन्दुत्व को अपनाना शुरू कर दिया है। इससे पहले कमलनाथ भी घोषणा कर चुके हैं कि हम हर पंचायत में गोशाला बनवाएंगे। वहीं कांग्रेस ने हाल ही में नया प्लान बनाया है, जिसमें राम वन गमन मार्ग पर यात्रा निकालने की बात कही गई है। यह मार्ग 36 विधानसभा क्षेत्र से होकर गुजरता है।

Ad Block is Banned