scriptकिसी ने हुस्न के जाल में फंसाकर ऐंठे रुपए तो कोई दुष्कर्म के केस में फंसाने की धमकी देकर डाली अड़ी | Patrika News
भोपाल

किसी ने हुस्न के जाल में फंसाकर ऐंठे रुपए तो कोई दुष्कर्म के केस में फंसाने की धमकी देकर डाली अड़ी

हनी ट्रैप का जिन्न एक बार फिर बाहर निकल आया है। 2019 में प्रदेश में हुए सबसे बड़े हनी ट्रैक कांड का हाल ही में फैंसला आया है। फैसला आने के एक महीने के अंदर ही दूसरा हनी टै्रप सामने आया है।

भोपालJun 10, 2024 / 01:20 pm

Rohit verma

Woman arrested for demanding Rs 2 crore from minister's former OSD, court sent her to jail

Woman arrested for demanding Rs 2 crore from minister’s former OSD, court sent her to jail

प्रदेश के इन तीन मामलों से समझें हनीट्रैप का केस

भोपाल. हनी ट्रैप का जिन्न एक बार फिर बाहर निकल आया है। 2019 में प्रदेश में हुए सबसे बड़े हनी ट्रैक कांड का हाल ही में फैंसला आया है। फैसला आने के एक महीने के अंदर ही दूसरा हनी टै्रप सामने आया है। इससे पहले भी एक के बाद एक हनी ट्रैप के मामले सामने आते रहे हैं।
केस-1
बता दें कि सितंबर, 2019 में इंदौर नगर निगम के तत्कालीन इंजीनियर ने पुलिस थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई थी कि तीन महिलाएं उन्हें अश्लील वीडियो के नाम पर ब्लैकमेल कर उनसे तीन करोड़ रुपये मांग रही हैं। पुलिस ने ब्लैकमेल करने वाली भोपाल की एक महिला को गिरफ्त में लिया था। बाद में पुलिस को पता चला कि आरोपी महिला का पति और निगम इंजीनियर अच्छे दोस्त थे।
इसके बाद धीरे-धीरे पुलिस ने इस मामले का खुलासा किया। पुलिस की जांच में पता चला कि इंजीनियर की महिला दोस्त ने नौकरी दिलाने के बहाने एक 18 साल की छात्रा से इंजीनियर की दोस्ती कराई थी। इसके बाद होटल में छात्रा ने मोबाइल फोन से इंजीनियर और महिला के अश्लील वीडियो बनाए। छात्रा और महिला ने तत्कालीन इंजीनियर को ब्लैकमेल करते हुए तीन करोड़ रुपए की मांग की। पुलिस ने मामले में तीन महिलाओं को हिरासत में लिया। आरोपी हनीट्रैप के जरिए अधिकारी, नेता, कारोबारी और रसूखदारों को फंसा कर उनसे मोटी रकम ऐंठते थे।
केस-2
27 अपे्रल 2023 को भोपाल में भेल के एक कर्मचारी के साथ ठगी का मामला सामने आया था। इस अधिकारी ने नौकरी के लिए एक महिला की मदद की कोशिश की, लेकिन उल्टा फंस गया। बीएचईएल में कार्यरत अधिकारी अपने सरकारी क्वार्टर में रहते थे। उनकी पत्नी डिलीवरी के लिए तमिलनाडु स्थित अपने गांव गई हुई थी। इसी बीच किसी दोस्त के जरिए उनकी पहचान आरोपी लड़की से हुई और दोनों की फोन पर बातचीत शुरू हो गई। आरोपी ने अपनी सहेली को नौकरी दिलवाने को लेकर बीएचईएल के अधिकारी के घर 15 अप्रेल की दोपहर पहुंची।
रात करीब 10.30 बजे उनके क्वार्टर पर दो नकली पुलिसवाले पहुंचे। उन्होंने कहा कि आपके घर में गलत तरीके से लड़कियां आई हुई हैं और बीएचईएल अधिकारी के साथ मारपीट करने लगे। लड़कियों से भी पूछताछ करने लगे। अधिकारी को थाने ले जाकर पॉस्को एक्ट के तहत केस दर्ज कराने की बात कही। केस से बचने के एवज में 20 लाख रुपए मांगे। अधिकारी से जोर जबरदस्ती और मारपीट करते हुए एक लाख से अधिक राशि लेकर वे लोग चले गए। दोनों लड़कियां भी उनके साथ चली गईं। इस पर अधिकारी ने गोविंदपुरा थाना पहुंचकर दोनों युवतियों सहित चार लोगों पर मामला दर्ज करवाया था।
केस-3
देवास में हनी ट्रैप का हाई प्रोफाइल मामला सामने आया था। इसमें एक नर्सिंग होम संचालक ने डॉक्टर को हुस्न के जाल में फंसाकर नौ लाख रुपए ऐंठ लिए थे। इसकी शुरुआत एक महिला के रॉन्ग नंबर पर कॉल से हुई। मामले में आरोपी महिला सहित दो अन्य डॉक्टरों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।

Hindi News/ Bhopal / किसी ने हुस्न के जाल में फंसाकर ऐंठे रुपए तो कोई दुष्कर्म के केस में फंसाने की धमकी देकर डाली अड़ी

ट्रेंडिंग वीडियो