पबजी पर पूर्ण रुप से प्रतिबंध लगाए सरकार- कांग्रेस

देश में बैन चाइनीज मोबाइल गेम मध्यप्रदेश में धड़ल्ले से चल रहा है इसे लेकर कांग्रेस ने सरकार पर सवाल उठाए हैं और पबजी गेम को पूर्व रूप से बैन किए जाने की मांग की है।

By: Shailendra Sharma

Published: 16 Oct 2020, 05:45 PM IST

भोपाल. मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में बीते दिनों एक नाबालिग बच्ची के साथ हुई बलात्कार की घटना में पबजी गेम की भूमिका सामने आने के बाद कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में पबजी को पूरी तरह से प्रतिबंधित करने की मांग की है। कांग्रेस का कहना है कि देश में बैन पबजी गेम मध्यप्रदेश में धड़ल्ले से चल रहा है युवा डाउनलोड कर पबजी गेम खेल रहे हैं जिससे उनमें हिंसा को बढ़ावा देने की प्रवृत्ति बढ़ रही है और इसलिए सरकार को प्रदेश में पूरी तरह से पबजी को बैन करना चाहिए।

एपीके फाइल के जरिए हो रहा डाउनलोड
मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस के सचिव विक्की खोंगल ने बताया कि पबजी गेम एपीके फाइल डाउनलोड कर मध्यप्रदेश में आसानी से खेला जा रहा है। इस गेम को भारत सरकार ने बैन किया है लेकिन युवाओं में हिंसात्मक प्रवृत्ति बढ़ाने वाला पबजी गेम प्रदेश में चल रहा है जिसे जल्द ही बैन किया जाना चाहिए। युवा कांग्रेस ने भोपाल में नाबालिग लड़की के साथ हुई बलात्कार की घटना में भी पबजी गेम की भूमिका को लेकर सवाल उठाते हुए मांग की है कि गेम को प्रदेश में पूरी तरह से बंद कराया जाना चाहिए। युवा कांग्रेस ने प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा और नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ को पबजी गेम बैन करने की मांग करते हुए एक ज्ञापन भी सौंपा।

बैन के बाद ऐसे चल रहा पबजी गेम
एक्सपर्ट्स का कहना है कि देश में पबजी गेम के बैन होने के बाद युवाओं ने इस गेम को खेलने का रास्ता ढूंढा और अब गेम की एपीके फाइल को मोबाइल फोन पर डाउनलोड कर गेम को आसानी से खेल रहे हैं। एपीके फाइल डाउनलोड होने के बाद उसे इंटरनेट से कनेक्ट किया जा रहा है और ऐसा करने के बाद गेम खेलने के साथ ही गेम से जुड़े अपडेट्स भी डाउनलोड किए जा सकते हैं।

नाबालिग से रेप का पबजी कनेक्शन
बता दें कि भोपाल में बीते दिनों एक नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया था। मामले की तफ्तीश में पता चला है कि 14 साल की नाबालिग की आरोपियों से पबजी गेम खेलते वक्त ही पहचान हुई थी और इसके बाद आरोपी युवकों ने उसे अपने झांसे में लिया और फिर उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। इतना ही नहीं आरोपियों ने वीडियो भी बनाया जिसे वायरल करने की धमकी देकर वो नाबालिग को मिलने के लिए बुलाते थे।

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned