35  मिनट में बांधी  478.5 मीटर कपड़े से सबसे बड़ी पगड़ी

बीकानेर के पवन व्यास ने दिखाया कारनामा, विश्व की सबसे बड़ी पगड़ी ( The biggest turban ) बांधने का किया दावा




By: Vimal

Published: 16 Dec 2020, 11:54 PM IST

बीकानेर. साफा, पाग और पगड़ी राजस्थान की आन, बान और शान के प्रतीक है। अपनी विशेष प्रकार से बांधने की कला और चटकीले रंगों के कारण राजस्थानी साफा, पाग और पगड़ी की ख्याति विश्वभर में है। बुधवार को बीकानेर के साफा, पाग और पगड़ी कलाकार पवन व्यास ने राजस्थानी साफा, पाग और पगड़ी ( Rajasthani Turban) को विश्व स्तर पर और ख्याति दिलाने के लिए विश्व की सबसे बड़ी पगड़ी ( The biggest turban ) बांधने का दावा (Claim ) पेश किया।

धरणीधर सभागार में पवन ने महज 35 मिनट में 478. 5 मीटर लम्बे साफा के कपड़े से सबसे बड़ी पगड़ी बांधी। पवन ने इस कार्य के लिए 8.7 मीटर लम्बे 55 साफा के कपडो का उपयोग किया। उन्होंने यह पगड़ी पगड़ी नेशनल मूछ चैम्पियन 2018 राहुल शंकर थानवी के सिर पर बांधी। पवन व्यास इससे पहले विश्व की सबसे छोटी 1 से 3 सेंटीमीटर तक की पगडिया बांधकर अपना नाम इंडिया बुक ऑफ रेकॉर्ड (India book of record ) में दर्ज करवा चुके है।

 

7 फुट परिधि, 18 किलोग्राम वजन
478 .5 मीटर लम्बाई के कपड़े से बांधी गई सबसे बडी पगड़ी की परिधि ( circumference ) 7 फुट 8 इंच हुई। पवन व्यास के अनुसार इस पगड़ी का वजन करीब 18 किलोग्राम है। 478.5 मीटर लम्बाई की पगड़ी बांधने में 8.7 मीटर लम्बाई के 55 साफे कपड़ो का उपयोग किया गया। पगड़ी को बांधने के लिए प्रकार की पिन या अन्य सामग्री का इस्तेमाल नहीं किया।

 

गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रेकॉर्ड में करेंगे आवेदन
विश्व की सबसे बड़ी पगड़ी बांधने का दावा करने वाले पवन व्यास 478.5 मीटर लम्बी पगड़ी बांधने के बाद अब गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रेकॉर्ड और वल्र्ड बुक ऑफ रेकॉर्ड में आवेदन करेंगे, ताकि राजस्थानी पगड़ी की ख्याति विश्व स्तर पर फैले। 20 वर्षीय व्यास के अनुसार विश्व में सबसे बड़ी 400 मीटर तक पगड़ी बांधी जा चुकी है।

Vimal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned