हेलमेट की बिक्री में जबरदस्त इजाफा, 3 महीने में बिके 9 लाख हेलमेट

  • हेलमेट की बिक्री में जबरदस्त इजाफा
  • 3 महीने में बिके 9 लाख हेलमेट

By: Pragati Bajpai

Updated: 17 Jul 2019, 12:46 PM IST

नई दिल्ली : हमारे देश में लोग हेलमेट सुरक्षा के लिए नहीं बल्कि चालान से बचने के लिए ज्यादा पहनते हैं यही वजह है कि लोग सस्ते या बिना आईएसआई ( ISI ) मार्क के बिना मिलने वाले हेलमेट भी खरीद लेते हैं । लेकिन अब ऐसा नहीं है दरअसल हाल के दिनों में isi मार्क वाले हेलमेट की बिक्री में काफी इजाफा हुआ है। आपको मालूम हो सरकार भी लगातार ISI मार्क वाले हेलमेट ( ISI mark Helmet ) खरीदने की सलाह देती रहती है।

सावधान ! 1 सितंबर से बदल जाएगा नियम , गलत आधार नंबर डालने पर देना होगा 10 हजार रुपए जुर्माना

3 महीने में बिके 9 लाख हेलमेट-

एशिया की सबसे बड़ी हेलमेट कंपनी स्टीलबर्ड ( steelebird ) का कहना है कि हाल के दिनों में उनकी हेलमेट की बिक्री का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है। कंपनी ने हेलमेट श्रेणी में 40 फीसदी की वृद्धि दर्ज की है। पिछले साल कंपनी ने पहली तिमाही में 5 लाख से अधिक हेलमेट बेचे थे और इस साल पहली तिमाही में हेलमेट की बिक्री 9 लाख तक पहुंच गई है ।

सख्त नियमों ने बढ़ाई बिक्री -

मोटर व्हीकल एक्ट के अनुसार, अब पूरे देश में दोपहिया वाहन चलाते हुए हेलमेट पहनना अनिवार्य है लेकिन ज्यादातर सवारियां हेलमेट नहीं पहनती हैं लेकिन फिर भी हेलमेट की बिक्री बढ़ रही है। एक बार जब नियम सख्त हो जाते हैं और सवार हेड गियर पहनना शुरू कर देते हैं, तो अपने आप ही मांग काफी बढ़ जाएगी।

और हाल के दिनों में नोएडा में जहां बिना हेलमेट के पेट्रोल मिलने पर रोक लग गई है वहीं आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर भी अब बिना हेलमेट के लोगों की एंट्री पर बैन लगा दिया गया है। इसके अलावा स्टीलबर्ड हेलमेट के एमडी, राजीव कपूर ने बताया कि हाल ही में, “तमिलनाडु और मध्य प्रदेश के परिवहन आयुक्तों ने दो पहिया वाहन निर्माताओं और डीलरशिप को निर्देश दिया था कि वे चालक के साथ-साथ पिलर के लिए नए दो पहिया वाहनों की खरीद पर हेलमेट अनिवार्य करें। जिसकी वजह से हमारी बिक्री बढ़ रही है । ''

Share Market Opening: सेंसेक्स, निफ्टी रुपया सपाट स्तर पर खुले, यस बैंक में बढ़त

उन्होने बताया कि हमारे पास हर साल 100 मिलियन हेलमेट की डिमांड होती है। हम पूरे स्पेक्ट्रम को कवर करने वाले बीआईएस मानदंडों और ग्राहकों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए नए उत्पादों को विकसित करने के लिए आरएंडडी पर बहुत निवेश कर रहे हैं। इससे हम नए नए उत्पाद सामने ला रहे हैं। सुरक्षा जरूरतों को पूरा करने के लिए हम स्टाइल और आराम पर भी जोर दे रहे हैं।”

Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned