नाबालिग छात्र का अपहरण, तीन थानों की पुलिस सकते में

नाबालिग छात्र का अपहरण, तीन थानों की पुलिस सकते में

Amil Shrivas | Publish: Nov, 15 2017 11:59:46 AM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

बस स्टैंड में मारपीट और नाबालिग के अपहरण की खबर पर पुलिस मौके पर पहुंची और बाइक को थाने ले गई।

बिलासपुर . व्यस्ततम पुराना बस स्टैंड से मंगलवार की रात एक नाबालिग छात्र को अपह्त कर मारपीट करने के मामले में तारबाहर पुलिस ने दो नामजद आरोपियों समेत एक दर्जन आरोपियों के खिलाफ अपहरण का अपराध दर्ज किया है। परेशान परिजन रात 10 बजे तक थाना दर थाना भटकते रहे तभी सूचना मिली कि नाबालिग को आरोपी पुराने हाईकोर्ट के सामने छोड़ गए हैं। देर रात तक थाने में भीड़ लगी रही। वारदात की वजह पूर्व रंजिश बताई जा रही है। पुलिस के मुताबिक करबला रोड कुम्हार पारा निवासी पवन कलसा पिता कमलदास कलसा 16 साल मंगलवार को शाम करीब साढ़े सात बजे अपने नाना के साथ मूंगफली खरीदने पुराना बस स्टैंड आया था। नाना को मूंगफली देकर वह अपने दोस्त के पास जाने बस स्टैंड में ही रुक गया और चाय ठेला में चाय पीने के लिए खड़ा हुआ था। तभी बाइक में 10-12 लड़के वहां आकर रुके और गाली गलौज, मारपीट कर पवन को अपनी बाइक में उठाकर ले गए। उसकी बाइक वहीं खड़ी थी। बस स्टैंड में मारपीट और नाबालिग के अपहरण की खबर पर पुलिस मौके पर पहुंची और बाइक को थाने ले गई।
READ MORE : फार्मासिस्टों ने कलेक्टर के खिलाफ दिया धरना, देखें वीडियो

इधर नाबालिग को युवक उठाकर मरीमाई मंदिर के पास अंधेरे में ले जाकर मारपीट करने लगे। इसी दौरान पवन को उसकी दोस्त (छात्रा) ने फोन किया तो पवन बचाओ-बचाओ चिल्ला रहा था। इसके बाद युवकों ने उसके मोबाइल का स्वीच ऑफ कर दिया। परिजन पुलिस बल के साथ मरीमाई मंदिर पहुंचे परंतु वहां कोई नहीं मिला। पुलिस तक बात पहुंचने से भयभीत आरोपी पवन को छोड़कर भाग निकले। रेलवे क्षेत्र से युवक दौड़ते हुए बदहवास अपने घर की तरफ दौड़ा, तभी लड़के की बहन ने मोबाइल पर कॉल कर उससे पूछताछ की तो उसने पुराने हाईकोर्ट के सामने होना बताया। परिजन पुराने हाईकोर्ट के पास से पवन को तारबाहर थाना लेकर पहुंचे जहां उसकी रिपोर्ट पर पुलिस ने दो नामजद आरोपी बापूनगर निवासी विनय मलिक और सनी समेत करीब दर्जन भर आरोपियों के खिलाफ जुर्म दर्ज कर लिया है।

READ MORE : आंख मूंद जनता की आंखों में झोंकी धूल 75 लाख की जगह करोड़ों की अनुशंसा

Ad Block is Banned