शहर के लिए सुखद खबर .... 7 निगेटिव आई रिपोर्ट, 33 ने कोरोना को हरा दिया

- 7 की आई है निगेटिव रिपोर्ट

By: ranjeet pardeshi

Updated: 19 May 2020, 12:24 PM IST

बुरहानपुर. कोरोना से फिर 19 लोगों ने जंग जीत ली। यह दूसरा मौका था जब अस्पताल से कोरोना मरीजों की छुट्टी पर खुशी का माहौल था। सोमवार शाम सभी की ताली बजाकर छुट्टी दी गई। इनका उत्साह बढ़ाया और घर पर ही रहने की हिदायत दी। ठीक होने वालों में इसमें २ साल के बच्चे से लेकर ६० साल की उम्र तक महिला भी शामिल है।
सोमवार सुबह 42 की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद शाम को निगेटिव की रिपोर्ट भी जारी की गई। पहलेल १७६ की रिपोर्ट दी फिर १९ की भी लिस्ट जारी की गई। इसमें ऐसे संक्रमित खुश हो गए जिनकी पहले कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट आई थी। ये सभी ३ मई से भर्ती थे। सोमवार शाम को अस्पताल से छुट्टी होने के बाद इनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। सभी खासे उत्साहित थे। कलेक्टर प्रवीणसिंह, एसपी भगवतसिंह बिरदे सहित अन्य अफसरों ने ताली बजाकर इनका होंसला बढ़ाया।
ये हुए पॉजिटिव से निगेटिव
देवेश्वर, मिहित राज, किशोर भंगाले, नम्रता, अभिलाषासिंह, ऋतुराजसिंह, कुसुम आनंद, अब्दुल वाजिद, नंदकिशोर महाजन, मोहम्मद शकील, योगेश महाजन, समीर खान, श्रवण वानखेड़े, अयातुलल्लाह, शेख अनीश, अब्दुल मौसीन, अक्षरा अमोल रतन, शिवा श्याम जंगाले, अमोल रजाने की रिपोर्ट निगेटिव आई है।
कोरोना से डरे नहीं
जिला अस्पताल में कर्मी शिवा जंगाले भी कोरोना से जीते हैं। कहा कि मैं एक कोरोना संक्रमित के संपर्क में आया था। जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। कोरोना से किसी को डरने की जरूरत नहीं। मैं भी 14 दिन क्वॉरंटीन रहा। इससे डरे नहीं जो भी संपर्क आए उसकी जांच करा ले। प्रशासन की ओर से बेहतर व्यवस्था की गई है।
33 अब तक ठीक हुए
कलेक्टर प्रवीणसिंह ने कहा कि आयुर्वेदिक कॉलेज में बने कोविड केयर सेंटर से 19 लोग डिस्चार्ज होकर लौटे। 33 लोग कुल हुए हैं। इसके पीछे कोविड हुए लोगों का भी मनोबल है। सभी सोशल डिस्टेंस का पालन करें। रिकवरी प्रतिशत बढ़ रहा है। सकारात्मक माहौल बना है। संक्रमण का आंकड़ा जरूर लग रहा है कि बढ़ रहा है, लेकिन उतनी ही तेजी से सभी ठीक भी होंगे। बुरहानपुर संक्रमण से मुक्त होगा।

ranjeet pardeshi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned