मुकेश अंबानी का ऐलान, 3 वर्षो के अंदर ग्रीन एनर्जी के लिए 75 हजार करोड़ रुपये का होगा निवेश

RIL के चेयरमैन अंबानी ने अगले तीन वर्ष में बड़ी क्षमता के चार विनिर्माण संयंत्र लगाने का ऐलान किया।

By: Mohit Saxena

Published: 04 Sep 2021, 01:22 AM IST

नई दिल्ली। जलवायु परिवर्तन (Climate Change) पर हो रहे अंतरराष्‍ट्रीय जलवायु शिखर सम्मेलन 2021 (ICS 2021) में शुक्रवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने कहा कि उन्होंने हरित ऊर्जा के क्षेत्र में बड़ा निवेश किया है। अंबानी ने अगले तीन वर्ष में बड़ी क्षमता के चार विनिर्माण संयंत्र लगाने के लिए 75 हजार करोड़ रुपये के निवेश का ऐलान करा है।

आत्मनिर्भरता के लक्ष्य की ओर बढ़ा भारत

RIL के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने समिट के दौरान कहा कि ‘अंतर्राष्ट्रीय जलवायु शिखर सम्मेलन–2021 में बोलना उनके लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि भारत आत्मनिर्भरता के लक्ष्य की ओर बढ़ता जा रहा है और एक दिन वह उसे जरूर हासिल करेगा।

ये भी पढ़ें: FSSAI ने दिया आदेश, प्लांट बेस प्रोडक्ट से 'मिल्क' शब्द को हटाया जाए

वास्तव में जलवायु परिवर्तन अगर अनियंत्रित होता है तो पृथ्वी पर जीवन के अस्तित्व को खतरा पैदा हो सकता है। जलवायु परिवर्तन निस्संदेह आज मानव सभ्यता के सामने सबसे कठिन चुनौती बनकर आया है। इससे निपटने के लिए हमें ग्रीन एनर्जी की ओर बढ़ना चाहिए।’

बेहद गर्व की बात

उन्होंने कहा कि भारत में एक नई हरित क्रांति शुरू हो चुकी है। पुरानी हरित क्रांति ने भारत को खाद्य उत्पादन में आत्मनिर्भर बनाया है। नई हरित क्रांति भारत को ऊर्जा उत्पादन में आत्मनिर्भर बनाने में मदद करती है। यह हम सभी के लिए बेहद गर्व की बात है। भारत ने 100 गीगावाट स्थापित अक्षय ऊर्जा अर्जित करने का बड़ा मुकाम हासिल करा है। अब दिसंबर 2022 तक 175 गीगावाट अक्षय ऊर्जा क्षमता का लक्ष्य है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned