scriptVehicle with no Fitness Certificate permit Insurance Company has to pay compensation Karnataka High Court | नहीं चलेगी इंश्योरेंस कंपनी की मनमानी! फिटनेस सर्टिफिकेट और परमिट न होने पर भी देना होगा मुआवजा, हाई कोर्ट | Patrika News

नहीं चलेगी इंश्योरेंस कंपनी की मनमानी! फिटनेस सर्टिफिकेट और परमिट न होने पर भी देना होगा मुआवजा, हाई कोर्ट

मोटर वाहन इंश्योरेंस के समय बीमा कंपनियां तमाम तरह के लोक-लुभावने वादे और ऑफर की पेशकश करती हैं, लेकिन जब बात किसी दुर्घटना के बाद मुआवजे की आती है तो कंपनियां नियम कानून और शर्तों से बचने की कोशिश करती हैं। लेकिन हाल ही में कर्नाटक उच्च न्यायालय ने एक मामले में सुनवाई के दौरान कहा कि, बीमाकर्ता कंपनियां फिटनेस प्रमाणपत्र (FC) और वाहन के परमिट का नवीनीकरण नहीं होने पर भी मुआवजे का भुगतान करने के दायित्व से बच नहीं सकती हैं।

नई दिल्ली

Updated: August 01, 2022 07:45:50 pm

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, कर्नाटक हाई कोर्ट ने एक मामले में निचली अदालत के उस फैसले को खारिज कर दिया, जिसमें पहले स्कूल बस के मालिक को दुर्घटना पीड़ित के परिवार को मुआवजा देने का आदेश दिया गया था, न की बीमा कंपनी को। क्योंकि स्कूल बस मालिक के पास दुर्घटना के दिन फिटनेस प्रमाण पत्र और परमिट नहीं था। उच्च न्यायालय ने इस मामले में बीमा कंपनी को पूरी मुआवजे की राशि का भुगतान करके स्कूल बस मालिक को हर्जाना देने का निर्देश दिया है।

रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले में दुर्घटना की तारीख के दिन बीमा पॉलिसी लागू थी, लेकिन परमिट और फिटनेस प्रमाण पत्र की वैधता समाप्त हो गई थी।" हादसे के बाद फिटनेस सर्टिफिकेट मिल गया था, इसलिए कोर्ट ने बीमा कंपनी को मुआवजा देने का आदेश दिया है।

car-amp.jpg
फिटनेस सर्टिफिकेट और परमिट न होने पर भी हादसे के वक्त देना होगा मुआवजा


कर्नाटक उच्च न्यायालय ने कहा कि बीमा कंपनी "जब तक फिटनेस प्रमाण पत्र लागू नहीं होता और ऐसा प्रतीत होता है कि पॉलिसी जारी होने के बाद फिटनेस प्रमाण पत्र समाप्त हो गया है, तब तक बीमा कंपनी ने पॉलिसी जारी नहीं की होगी।" इसके अलावा जहां तक परमिट की बात है तो अदालत ने बताया कि, जब परमिट समाप्त होने वाला होता है और नए के लिए आवेदन किया जाता है, तो अस्थायी परमिट अंतराल अवधि के लिए जारी किया जाता है, और इसका नवीनीकरण से कोई लेना-देना नहीं है।"

यह भी पढें: इस तारीख को आ रही है Hunter 350 और नई Bullet, कंपनी ने जारी किया टीज़र

कोर्ट ने कहा कि "यह माना जाना चाहिए कि जिस दिन दुर्घटना हुई, उस दिन परमिट लागू था," यह कहते हुए कि "बीमा कंपनी अपीलकर्ता की देयता की क्षतिपूर्ति करने की अपनी जिम्मेदारी से इनकार नहीं कर सकती।"


क्या था पूरा मामला:

रिपोर्ट के अनुसार सैयद वली 28 सितंबर, 2015 को एक अन्य व्यक्ति मोहम्मद शाली के साथ मोटरसाइकिल से जा रहे थें, इसी दौरान सड़क पर एक स्कूल बस के साथ वो दुर्घटना के शिकार हो गएं। इस हादसे में सैयद वली की दुखद मृत्यु हो गई। जिसके बाद उनकी पत्नी बानो बेगम और बच्चों मालन बेगम और मौला हुसैन ने मुआवजे के लिए दावा दायर किया था। वहीं इस मामले में बीमा कंपनी ने दावा किया कि स्कूल बस के पास फिटनेस प्रमाणपत्र नहीं था और बीमा पॉलिसी लागू होने के बावजूद उसका परमिट लागू नहीं था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

NSA अजीत डोभाल की सुरक्षा में चूक को लेकर केंद्र का बड़ा एक्शन, हटाए गए 3 कमांडो'रूसी तेल खरीदकर हमारा खून खरीद रहा है भारत', यूक्रेन के विदेश मंत्री Dmytro KulebaNagpur Crime: डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस के घर के बाहर मजदूर ने किया सुसाइड, मचा हड़कंपरोहिंग्या शरणार्थियों को फ्लैट देने की खबर है झूठी, गृह मंत्रालय ने कहा- केंद्र ने ऐसा कोई आदेश नहीं दियालालू यादव ने बताया 2024 का प्लान, बोले- तानाशाह सरकार को हटाना हमारा मकसद, सुशील मोदी को बताया झूठाPunjab Bomb Scare: अमृतसर में SI की गाड़ी में बम लगाने वाले दो आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार, कनाडा भागने की फिराक में थेगुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता नरेश रावल और राजू परमार ने थामी भाजपा की कमानशाबाश भावना: यूरोप की सबसे बड़ी चोटी भी नहीं डिगा पाई मध्यप्रदेश की बेटी का हौसला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.