अकाल तख्त के जत्थेदार के साथ एसजीपीसी अध्यक्ष ने भी किया खालिस्तान का समर्थन

स्वर्ण मंदिर के बाहर खालिस्तान जिन्दाबाद के नारे लगाते हुए जुलूस निकला

ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी पर पंजाब की सियासत गर्माई, विरोध और समर्थन

By: Bhanu Pratap

Published: 06 Jun 2020, 02:05 PM IST

अमृतसर । श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह के साथ शिरोमणि गुरुद्वार परबंधक कमेटी (एसजीपीसी) के अध्यक्ष गोविन्द सिंह लोंगोवाल भी खालिस्तान की मांग का समर्थन किया है। 6 जून, 1984 को हुए ऑपरेशन ब्लू स्टर की बरसी पर समागम के बाद स्वर्ण मंदिर परिसर के बाहर खालिस्तान जिन्दाबाद के नारे लगाए गए। नारे लगाते हुए जुलूस भी निकाला गया। जनरैल सिंह भिंडरवाला के पोस्टर लहराए गए।

यह भी पढ़ें

Operation Blue Star जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने कहा- खालिस्तान हर सिख की मांग

क्या कहा जत्थेदार ने

अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने ने कहा- भारत सरकार की नीतियां सिख विरोधी हैं, जिससे उन्हें लगता है कि भारत सरकार सिखों से सौतेला व्यवहार करती है। अगर सिखों को खालिस्तान मिल जाता है तो यह अंधे को दो आंखें देने वाली बात होगी। अगर सिख कौम के कुछ लोग अकाल तख्त पर आकर खालिस्तान के नारे लगाकर अपनी भावनाएं प्रकट करते हैं तो इसमें कुछ गलत नहीं है। यह उनका हक है जो वह मांग रहे हैं। अगर भारत सरकार यह उन्हें देती है तो इसमें बुराई कोई नहीं है।

यह भी पढ़ें

Operation Blue Star श्री हरमंदिर साहिब में जबरन प्रवेश पर पुलिस से झड़प, खालिस्तान के नारे लगाए

Operation blue star

खालिस्तान का स्वागतः एसजीपीसी

एसजीपीसी अध्यक्ष गोविंद सिंह लोंगोवाल ने ज्ञानी हरप्रीत सिंह की मांग का समर्थन करते हुए कहा कि अगर भारत सरकार उनको खालिस्तान देती है तो वह उसका स्वागत करेंगे।

यह भी पढ़ें

Operation blue star की बरसी आज, 5500 पुलिसकर्मी तैनात, 65 नाके बनाए

विरोध और समर्थन

इन सब बातों को लेकर पूरे पंजाब की सियासत गरमा गई है। एसजीपीसी अध्यक्ष अकाल तख्त के जत्थेदार द्वारा दिए गए इन बयानों को राजनीतिक करार देते हुए लुधियाना इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के चेयरमैन रमन सुब्रमण्यम ने कहा कि अकाल तख्त के जत्थेदार को इस तरह का बयान नहीं देना चाहिए। यह बयान राजनीति से प्रेरित है। अगर यह बयाना अकाल तख्त से जारी हुआ है तो शायद पंजाब के काले दिन फिर से शुरू हो चुके हैं। दल खालसा संगठन के मुखी कुंवर पाल सिंह ने कहा है कि अकाल तख्त के जत्थेदार ने जो बयान दिया है, वह सराहनीय है। हम उसका समर्थन करते हैं, मगर सत्ता कभी मांग कर नहीं मिलती, हमेशा छीन कर ली जाती है।

यह भी पढ़ें

Operation Blue Star अमृतसर में अकाल तख्त पर अखंड पाठ, आज डाला जाएगा भोग

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned