प्रदर्शन खत्म कर वापस काम पर लौटें डॉक्टर : स्वास्थ्य मंत्री

Mukesh Sharma

Publish: Dec, 07 2017 10:25:06 (IST)

Chennai, Tamil Nadu, India
प्रदर्शन खत्म कर वापस काम पर लौटें डॉक्टर : स्वास्थ्य मंत्री

राज्य स्वास्थ्य मंत्री सी. विजयभास्कर ने बुधवार को पिछले २० दिनों से स्वास्थ्य विभाग द्वारा सीधी भर्ती नहीं करने की मांग को लेकर सेवारत डॉक्टरों द्वार

चेन्नई।राज्य स्वास्थ्य मंत्री सी. विजयभास्कर ने बुधवार को पिछले २० दिनों से स्वास्थ्य विभाग द्वारा सीधी भर्ती नहीं करने की मांग को लेकर सेवारत डॉक्टरों द्वारा जारी प्रदर्शन को रोक कर वापस काम पर जाने का आग्रह किया। यहां जारी एक विज्ञप्ति में उन्होंने कहा कि सरकारी अस्पतालों में विशेषज्ञों के पदों के लिए आयोजित होने वाली सीधी भर्ती सिर्फ रिक्त पदों को भरने के लिए होती है। प्रदर्शनकारियों का अभी भी स्नातकोत्तर पूरा नहीं हुआ है।

कॉलेज पूरा करने में अभी भी उन्हें ६ महीना लगेगा। तब तक के लिए सरकार रिक्त पदों को खाली नहीं रख सकती है। हालांकि पहले से ही सेवारत डॉक्टरों को पीजी पूरा करने के बाद नियुक्ति का आश्वासन दिया गया है। उन्होंने कहा कि ऐसे में अपने प्रदर्शन को रोक कर मरीजों के कल्याण को ध्यान में रखते हुए अपने काम पर वापस लौट जाना चाहिए। इसी बीच मद्रास मेडिकल कॉलेज के सामने चिकित्सकों ने मानव श्रृंखला बनाकर अपनी मांगों को पूरा करने के लिए प्रदर्शन किया। जिन्हें बाद में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

वीसीके, सीपीआई व अन्य दल उतरे विशाल के समर्थन में

चुनाव आयोग द्वारा आर.के. नगर उपचुनाव के निर्दलीय अम्मीदवार अभिनेता विशाल के नामांकन पत्र रद्द होने के बाद एक तरफ डीएमके उम्मीदवार मरुदु गणेश का समर्थन कर रहे वीसीके अध्यक्ष तोल. तिरुमावलवन, सीपीआई राज्य सचिव मुत्तरसन और सीपीआई (एम) तमिलनाडु इकाई सचिव जी. रामाकृष्णनन सहित कई अन्य राजनीति दल के नेता विशाल का समर्थन कर आयोग के फैसले की निदंा कर रहे हैं तो दूसरी ओर भाजपा द्वारा विशाल और दीपा को राजनीति में आने से पहले नामांकन पत्र भरना सीखने की सलाह दी गई है।

पत्रकारों से वार्ता के दौरान तिरुमावलवन ने कहा यह लोकतंत्र के खिलाफ है और चुनाव अधिकारियों का तत्काल में तबादला कर देना चाहिए। इसी बीच भाजपा के राष्ट्रीय सचिव एच. राजा ने कहा अभिनेता विशाल और राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री स्व.जे. जयललिता की भतीजी दीपा जयकुमार का नामांकन पत्र रद्द होने से उन्हें राजनीति के बारे में और सीखने का अवसर मिला है। इसके साथ ही वे राजनीति में शामिल होने से पहले नामांकन पत्र भरना सीखें।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned