दो पटवारी किए निलंबित, तहसीलदारों को नोटिस

नवागत एसडीएम संतोष कुमार चंदेल ने दिखाए सख्त तेवर

By: Dharmendra Singh

Published: 03 Mar 2021, 08:50 PM IST

छतरपुर। सागर से स्थानांतरित होकर आए डिप्टी कलेक्टर संतोष कुमार चंदेल ने बुधवार को छतरपुर एसडीएम के रूप में पदभार संभाल लिया है। एसडीएम का दायित्व संभालते ही उन्होंने अपने सख्त तेवर स्पष्ट कर दिए हैं। उन्होंने सुबह साढ़े 10 बजे सबसे पहले दफ्तर पहुंचकर देरी से कार्यालय आने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिए हैं। लापरवाही जैसे मामलों पर भी नोटिस जारी किए गए हैं। जिन लोगों को कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं उनमें तहसीलदार संजय शर्मा और नायब तहसीलदार अभिनव शर्मा भी शामिल हैं।
एसडीएम ने पहले ही दिन कलेक्टर के पूर्व में जारी निर्देशों का पालन करते हुए दो पटवारियों को निलंबित भी कर दिया। हल्का 59 ग्राम कैंड़ी की पटवारी सोनल अग्रवाल को निलंबित किया गया है। एसडीएम ने बताया कि पटवारी सोनल अग्रवाल ने नामांतरण के एक मामले में अपनी रिपोर्ट 35 अवसर दिए जाने के बाद भी प्रस्तुत नहीं की थी। ग्राम कैंड़ी में कलेक्टर के भ्रमण के दौरान इस मामले की शिकायत सामने आयी थी। इसी तरह मौराहा हल्का 72 के पटवारी सरफराज अहमद को भी बंटवारा संबंधी एक मामले में एक साल तक फर्द रिपोर्ट प्रस्तुत न करने पर निलंबित किया गया है। एसडीएम ने कहा कि उक्त दोनों ही मामले गंभीर हैं। इन मामलों में पटवारियों के विरूद्ध विभागीय जांच भी कराई जा रही है।
31 मार्च तक लंबित पड़े तहसील के काम को निपटाएंगे
एसडीएम संतोष कुमार चंदेल ने कहा कि छतरपुर तहसील कार्यालय में लंबे समय से नामांतरण, बंटवारा सहित अन्य शासकीय कार्य लंबित पड़े होने की जानकारी मिली है। उन्होंने पदभार संभालते ही अधिकारियों और कर्मचारियों को 31 मार्च तक पुराने सभी कार्यों को निराकृत करने के निर्देश दिए हैं। समय पर काम पूरा न करने पर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही शासन द्वारा चलाया जा रहा एंटी माफिया अभियान और गेहंू उपार्जन का काम हमारी प्राथमिकता में रहेगा।

Dharmendra Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned