Artist: प्रसिद्ध अभिनेता ने कलाकारों से सांझा किए अनुभव, कही यह बड़ी बात

युवाओं की भूमिका और जिम्मेदारी के बारे में विस्तृत रूप से बताया।

By: ashish mishra

Published: 24 Jun 2020, 12:29 PM IST


छिंदवाड़ा. नाट्यगंगा द्वारा आयोजित ऑनलाइन अभिनय कार्यशाला के 28वें दिन प्रसिद्ध अभिनेता यशपाल शर्मा ने कलाकारों से अपने अनुभव सांझा किए। उन्होंने कला जगत में युवाओं की भूमिका और जिम्मेदारी के बारे में विस्तृत रूप से बताया। उन्होंने कहा कि हर कलाकार में सीखने की लगन होनी चाहिए। सभी बातों से पहले जरूरत है एक अच्छा इंसान बनने की। मुख्य अतिथि ने आज के दौर में युवाओं का मोबाइल फोन के प्रति बढ़ते रूझान को लेकर चिंता जाहिर की। कहा कि आज का समय ऐसा हो गया है कि दुनिया हमारी मु_ी में होने के बाद भी हमारे हाथ खाली हैं। आज हमें आवश्यकता है कि हम आभाषीय दुनिया से निकलकर वास्तविक जीवन मे आएं। संवाद का अर्थ सिर्फ बोलना नहीं होता हमें एक दूसरे की परवाह होना चाहिए। उन्होंने कहा कि वर्तमान में फुटबॉल भी फोन पर खेली जा रही है। आज प्रत्येक युवा की समाज के प्रति जो जिम्मेदारियां हैं उन्हें निभाने का समय है। उन्होंने कहा कि लोहा तुम्हारे हाथ में है तुम पर निर्भर करता है कि तुम उस लोहे से तलवार बनाते हो या ढाल। कोरोना काल के विषय में प्रश्न पूछने पर उन्होंने कहा कि कोरोना ने तो परिवार को एक साथ जोड़ दिया है। कलाकारों में बढ़ते अवसाद पर उन्होंने कहा कि इंसान को जिम्मेदार बनना चाहिए क्योंकि जिम्मेदार व्यक्ति गलत कदम उठाने से पहले सबके विषय में सोचेगा। उन्होंने कहा कि आप जो करना चाहते हो आज ही कर लो, कल का कोई भरोसा नहीं है। किसी की तारीफ करना हो, प्यार का इजहार करना हो, किसी को गले लगाना हो, माफी मांगना हो, सब आज ही कर डालो। कार्यक्रम का संचालन श्याम सुंदर यादव ने और आभार निकेतन मिश्रा ने व्यक्त किया।

ashish mishra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned