script Big news: आयुक्त के खिलाफ लामबंद हुई कांग्रेस, सडक़ पर उतरकर किया प्रदर्शन | Big news: Congress mobilized against the commissioner | Patrika News

Big news: आयुक्त के खिलाफ लामबंद हुई कांग्रेस, सडक़ पर उतरकर किया प्रदर्शन

locationछिंदवाड़ाPublished: Jan 16, 2024 01:46:27 pm

Submitted by:

ashish mishra

ऑफिस में आयुक्त नहीं मिले तो चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को ज्ञापन सौंपकर की जमकर नारेबाजी

Big news: आयुक्त के खिलाफ लामबंद हुई कांग्रेस, सडक़ पर उतरकर किया प्रदर्शन
Big news: आयुक्त के खिलाफ लामबंद हुई कांग्रेस, सडक़ पर उतरकर किया प्रदर्शन
छिंदवाड़ा. शहर कांग्रेस कमेटी एवं कांग्रेस पार्षद दल ने सोमवार को नगर पालिका निगम में आम जन के कार्य न होने एवं शहर सरकार की लगातार अवहेलना को लेकर प्रदर्शन किया। आयुक्त राहुल सिंह पर मनमानी का आरोप लगाया। पदाधिकारियों का कहना था कि कांग्रेस की शहर सरकार नगर के विकास के लिए प्रतिबद्ध है, लेकिन निगम के चंद प्रशासनिक अधिकारी राज्य की भाजपा सरकार के इशारों पर जनसरोकार के कार्यों को रोक रहे हैं। आरोप लगाया कि प्रदेश की भाजपा सरकार, स्थानीय भाजपा नेताओं और निगम आयुक्तके गठजोड़ ने नगर के विकास, आम जनता के कार्यों, कर्मचारी विरोधी निर्णयों और निगम के चुने हुए जनप्रतिनिधियों की अवहेलना को बल दिया है। कांग्रेस ने फव्वारा चौक पर प्रदर्शन के पश्चात रैली के रूप में निगम कार्यालय आयुक्त को ज्ञापन देने पहुंचे। यहां आयुक्त के मौजूद न होने पर नाराजगी जताई और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को ज्ञापन सौंपकर जमकर नारेबाजी की। पदाधिकारियों का कहना था कि बदले की भावना से राज्य की भाजपा सरकार ने निगम को प्रदान की जाने वाली चुंगी की क्षतिपूर्ति राशि में बड़ी कटौती कर दी है। ऐसे में विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं। दूसरी तरफ निगम आयुक्त भाजपा के स्थानीय नेताओं के इशारों पर कार्य करते हुए सम्पूर्ण जनसरोकार के कार्यों को रोक रहे हैं। धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष विश्वनाथ ओक्टे ने कहा कि आगामी चार दिनों में अगर निगम आयुक्त ने अपनी कार्यशैली में सुधार नहीं लाया तो कांग्रेस उग्र आंदोलन के लिए मजबूर होगी। वरिष्ठ नेता गंगाप्रसाद तिवारी ने कहा कि नगर की जनता के कार्य कांग्रेस की पहली प्राथमिकता है, आज हम सभी इस शांतिपूर्ण धरना प्रदर्शन के माध्यम से आयुक्त को यह चेतावनी दे रहे हैं कि वे नगर की जनता के कार्यों में बाधा नहीं डाले।
आयुक्त नैतिक जिम्मेदारी को भूले-महापौर
महापौर विक्रम अहके ने धरना प्रदर्शन को संबोधित किया। कहा कि आयुक्त अपनी नैतिक जिम्मेदारी को भूल चुके हैं। मोक्षधाम में लकडिय़ां नहीं है। आवारा मवेशी और श्वानों का शहर में आतंक है। स्वच्छता को लेकर वे पूरी तरह उदासीन है, उनकी हिटलरशाही की वजह से छिंदवाड़ा नगर निगम आज स्वच्छता सर्वेक्षण में देश में 55 वें स्थान पर है, जबकि इसके पूर्व छिंदवाड़ा 14 वें पायदान पर था और स्टार रेंटिंग तीन थी जो आज महज 1 पर आकर सिमट गई है। इससे न केवल नगर अपितु जिला शर्मशार है। इसके बावजूद भी कमिश्नर अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। प्रधानमंत्री आवास एवं निगम की टाऊनशिप में मकान खरीदने वाले हितग्राहियों पर अधिक राशि चुकाने का दबाव बनाया जा रहा है।

सेवा देने के बावजूद नहीं दे रहे वेतन-निगम अध्यक्ष
निगम अध्यक्ष सोनू मागो ने कहा कि निगम प्रशासन की उदासीनता से कचरा प्रसंस्करण इकाई शहर के मध्य परासिया रोड स्थित बर्मन की जमीन पर संचालित हो रही है। चौक-चौराहों पर निर्मित सेल्फी पाइंट व पार्कों का रख रखाव नहीं किया जाना प्रशासनिक अमले की बेपरवाही को दर्शाता है। नियमित सेवा देने के उपरांत निगमकर्मियों को मासिक वेतन का भुगतान नहीं किया जा रहा। निर्वाचित जनप्रतिनिधियों की अवहेलना, सर्वर की समस्या बताकर कार्यों में अवरोध उत्पन्न करना निगम आयुक्त की आदत में सुमार हो चुका है। आयुक्त ने 20 से अधिक वाहन सुधरवाने भेजा है, जो आज तक वापस नहीं आए।
ये रहे मौजूद
धरना प्रदर्शन को शहर कांग्रेस अध्यक्ष पप्पू यादव सहित अन्य गणमान्य ने भी संबोधित किया। इस दौरान महिला कांग्रेस अध्यक्ष किरण चौधरी, शहर कांग्रेस समन्वयक आनंद बक्षी, जय सक्सेना, पार्षद दल के नेता पंडित राम शर्मा, सुधीर पाटनी, जय सक्सेना, जसपाल नैय्यर सहित कांग्रेस के समस्त विभाग, प्रकोष्ठ व मोर्चा संगठन के प्रभारी एवं पार्षद, सभापति उपस्थित रहे।

ट्रेंडिंग वीडियो