scriptBlack business of coal in Parasia | परासिया में कोयले का काला कारोबार | Patrika News

परासिया में कोयले का काला कारोबार

locationछिंदवाड़ाPublished: Oct 01, 2022 05:30:30 pm

Submitted by:

Rahul sharma

पुलिस ने घेराबंदी कर तीन ट्रकों को जब्त कर कोयला का अवैध परिवहन मामले का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने तीन ट्रकों को पकडऩे के बाद अंदेशा जताया है कि कोयले का काला कारोबार लम्बे समय से चल रहा था। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गुरुवार सुबह कोयला का अवैध परिवहन करते तीन ट्रक जब्त किया है। इस मामले में कुल १५ लोगों को आरोपी बनाया गया है। इनमें से पांच पुलिस की गिरफ्त में जबकि १० फरार हैं।

truck2.jpg
Black business of coal in Parasia
छिन्दवाड़ा/ परासिया. पुलिस ने घेराबंदी कर तीन ट्रकों को जब्त कर कोयला का अवैध परिवहन मामले का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने तीन ट्रकों को पकडऩे के बाद अंदेशा जताया है कि कोयले का काला कारोबार लम्बे समय से चल रहा था। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गुरुवार सुबह कोयला का अवैध परिवहन करते तीन ट्रक जब्त किया है। इस मामले में कुल १५ लोगों को आरोपी बनाया गया है। इनमें से पांच पुलिस की गिरफ्त में जबकि १० फरार हैं। पुलिस ने बताया कि भगत सिंह तिराहा के पास घेराबंदी कर ट्रक क्रमांक एमपी 28 एच 1831 को जब्त किया था। इसमें 28 टन से अधिक अवैध कोयला पाया गया। पुलिस इस मामले में पुलिस ने खनिज अधिनियम के तहत सोयब खान, अख्तर खान अमन डेहरिया को गिरफ्तार किया है। वहीं सलीम खान, निजाम खान, फिरोजुद्दीन की पुलिस तलाश कर रही है। ट्रक क्र एमपी 09 एचजी 2256 में 17 टन कोयला मिला। इसमें सात लोगों को आरोपी बनाया गया है। कमलेश नर्रे को गिरफ्तार किया गया है, जबकि असलम खान, साजिद खान, नूर खान, एनुल, अशोक यादव, सिराज खान की तलाश जारी है। वहीं ट्रक क्रमांक एमपी 28 एच 1051 में वैध कोयला पाया गया। चालक के पास दस्तावेज पाए गए, लेकिन ट्रक निर्धारित रूट से अलग मिला, इसमें धारा 407, 34 के तहत दिनेश डेहरिया को गिरफ्तार किया गया और आशीष पिथौडे की तलाश की जा रही है। शासकीय पेंचवेली महाविद्यालय परासिया में छात्र-छात्राओं के लिए कंप्यूटर प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। एनआईआईटी फाउंडेशन बडक़ुही छात्र-छात्राओं को प्रशिक्षण प्रदान कर रहा है। प्रशिक्षण में लगभग 80 विद्यार्थी भाग ले रहे हैं जिसका शुभारम्भ प्राचार्य डा. पीआर चंदेलकर, केरियर मार्गदर्शक प्रभारी डा. योगेश अहिरवार और फ ाउंडेशन के प्रशिक्षक मनोज पवार ने किया।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.