मुख्यमंत्री के गृह जिले में दो कॉलेज क्यों हैं चिंतित, दबाव में करना होगा यह काम, पढि़ए पूरी खबर

मुख्यमंत्री के गृह जिले में दो कॉलेज क्यों हैं चिंतित, दबाव में करना होगा यह काम, पढि़ए पूरी खबर
मुख्यमंत्री के गृह जिले में दो कॉलेज क्यों हैं चिंतित, दबाव में करना होगा यह काम, पढि़ए पूरी खबर

Ashish Kumar Mishra | Updated: 24 Aug 2019, 12:41:56 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

विद्यार्थियों को 28 अगस्त तक प्रवेश लेना होगा।

 

छिंदवाड़ा. कॉलेजों ने स्नातकोत्तर में प्रवेश के लिए उच्च शिक्षा विभाग द्वारा भेजी गई जानकारी के अनुसार आरक्षण एवं गुणानुक्रम के आधार पर प्रवेश लिस्ट जारी कर दी। लिस्ट के अनुसार विद्यार्थियों को 28 अगस्त तक प्रवेश लेना होगा। इसके पश्चात 29 से 31 अगस्त तक कॉलेजों द्वारा रिक्त सीट पर बिना आरक्षण के पहले आओ पहले पाओ के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा। हालांकि प्रवेश के अंतिम चरण में जिले के दो प्रमुख कॉलेजों में सीट कम होने से अधिकतर आवेदक विद्यार्थी वेटिंग लिस्ट में आए गए हैं। ऐसे में दोनों ही कॉलेज चिंतित हैं। कॉलेजों का कहना है कि बीते वर्ष छात्रसंघ के दबाव में हमने सभी विद्यार्थियों को दाखिला दे दिया था, लेकिन इस बार कैसे देंगे। हमारे पास न संसाधन हैं और न ही स्टाफ। राजमाता सिंधिया गल्र्स कॉलेज में एमए, एमकॉम एवं एमएससी में कुल 256 रिक्त सीट पर सीएलसी राउंड में 2076 छात्राओं ने वहीं पीजी कॉलेज में कुल 259 सीट पर 2008 विद्यार्थियों ने आवेदन किया है। ऐसे में कॉलेजों को यह समझ में नहीं आ रहा कि वे अब शेष आवेदक विद्यार्थियों को कैसे प्रवेश देंगे। दरअसल कॉलेजों में संसाधन सीमित है। जबकि हर वर्ष प्रवेश के लिए विद्यार्थियों की संख्या बढ़ रही है। बीते वर्ष भी अंतिम चरण में प्रवेश के लिए आवेदक विद्यार्थियों की लंबी लिस्ट थी। ऐसे में सभी को प्रवेश दिलाने के लिए छात्रसंघ लामबंद हो गए थे। गल्र्स कॉलेज में तो छात्राएं सडक़ पर उतर आई थी। ऐसे में पुलिस को हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा था। प्रवेश के लिए इस बार भी अंतिम चरण में विद्यार्थियों की संख्या काफी अधिक है जबकि सीट काफी कम। ऐसे में अंदेशा है कि बीते वर्ष की तरह इस बार भी वैसी ही स्थिति निर्मित हो सकती है।

अर्थशास्त्र में 11 रिक्त सीट पर 117 आवेदन
गल्र्स कॉलेज में एमए अर्थशास्त्र संकाय में 11 रिक्त सीट पर 117 छात्राओं ने प्रवेश के लिए आवेदन किया है। जबकि अंग्रेजी संकाय में 10 रिक्त सीट पर 86, हिन्दी संकाय में 11 रिक्त सीट पर 274, इतिहास में 7 रिक्त सीट पर 262, राजनीति शास्त्र में 7 रिक्त सीट पर 323, संस्कृत में 8 रिक्त सीट पर 126, समाजशास्त्र संकाय में 9 रिक्त सीट पर 283, एमएससी बाटनी संकाय में 14 रिक्त सीट पर 107, एमएससी कमेस्ट्री में 17 रिक्त सीट पर 144 आवेदन आए हैं। ऐसे ही हाल अन्य संकाय के भी हैं। हालांकि गल्र्स कॉलेज में एमकॉम में दाखिला लेने में काफी कम छात्राओं ने दिलचस्पी दिखाई है। यहां अंतिम चरण में 67 सीट रिक्त है। जबकि महज 27 छात्राओं ने प्रवेश के लिए आवेदन किया है।

पीजी कॉलेज में 14 रिक्त सीट पर 283 आवेदन
पीजी कॉलेज में एमए अर्थशास्त्र संकाय में 18 रिक्त सीट पर 93 विद्यार्थियों ने आवेदन किया है। वहीं अंग्रेजी संकाय में 29 रिक्त सीट के लिए 110 आवेदन, हिंदी संकाय में 33 रिक्त सीट पर 222 आवेदन, भूगोल संकाय में 22 सीट पर 42 आवेदन, इतिहास संकाय में 13 रिक्त सीट पर 230 आवेदन, राजनीति शास्त्र संकाय में 14 रिक्त सीट पर 283 आवेदन, समाजशास्त्र संकाय में 17 रिक्त सीट पर 215 आवेदन, एमकॉम में 25 रिक्त सीट पर 91 आवेदन, एमएससी बॉटनी संकाय में 16 रिक्त सीट पर 141 आवेदन, कमेस्ट्री संकाय में 11 रिक्त सीट पर 192 आवेदन, मैथ संकाय में 41 रिक्त सीट पर 109 आवेदन, फिजिक्स संकाय में 12 रिक्त सीट पर 83 आवेदन एवं ज़ुलॉजी संकाय में 8 रिक्त सीट पर 197 आवेदन आए हैं।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned