Higher education: नवंबर तक नहीं खुलेंगे कॉलेज, चलेंगी ऑनलाइन कक्षा, ऐसे होगी पढ़ाई

ऑनलाइन माध्यम से शिक्षा दी जाएगी।

By: ashish mishra

Published: 22 Sep 2020, 01:23 PM IST


छिंदवाड़ा. उच्च शिक्षा विभाग द्वारा नवंबर माह तक अध्यापन के लिए कॉलेज नहीं खोले जाएंगे। विद्यार्थियों को ऑनलाइन माध्यम से शिक्षा दी जाएगी। सोमवार को उच्च शिक्षा विभाग आयुक्त ने आयोजित वीडियो कांफ्रेंसिंग बैठक में यह स्पष्ट कर दिया। बैठक में कॉलेजों में सत्र 2020-21 की ऑनलाइन ई-प्रवेश प्रक्रिया के अंतर्गत सीएलसी प्रथम चरण की प्रक्रिया एवं कॉलेज स्तर पर स्नातक, स्नातकोत्तर की ऑनलाइन कक्षाओं के संचालन व्यवस्था के संबंध में चर्चा की गई। वीसी में सभी परंपरागत विवि के कुलसचिव, क्षेत्रीय अतिरिक्त संचालक एवं शासकीय कॉलेज के प्राचार्य शामिल हुए। छिंदवाड़ा जिले के पीजी कॉलेज(लीड कॉलेज) प्राचार्य डॉ. अमिताभ पांडे ने बताया कि वीसी में उच्च शिक्षा विभाग आयुक्त मुकेश कुमार शुक्ल ने शासकीय कॉलेज प्राचार्यो को 1 अक्टूबर से 30 नवम्बर तक कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन शुरू करने के निर्देश दिए। स्नातकोत्तर स्तर पर 30-30 मिनट की तीन कक्षाएं और स्नातक स्तर पर 40-40 मिनट की तीन कक्षाएं ऑनलाइन माध्यम से लगाई जाएंगी। आयुक्त ने कहा है कि अक्टूबर एवं नवम्बर माह में दो-दो यूनिट का अध्यापन कार्य पूर्ण करना होगा, साथ ही ऑनलाइन कक्षाओं की मॉनिटरिंग उच्च शिक्षा विभाग भोपाल तथा अतिरिक्त संचालक कार्यालय जबलपुर द्वारा की जाएगी। जिला स्तर पर लीड कॉलेज प्राचार्य मानिटरिंग करेंगे। कॉलेज स्तर पर ऑनलाइन कक्षाएं तो आयोजित की ही जाएंगी इसके अलावा आकाशवाणी माध्यम से भी विभिन्न विषयों की कक्षाएं संचालित होंगी। विभाग ने ऑनलाइन कक्षाओं के संबंध में प्रोफेसरों की सूची भी मंगवाई है।

प्रथम चरण में बीते वर्ष की अपेक्षा कम प्रवेश
उच्च शिक्षा विभाग आयुक्त ने ऑनलाइन माध्यम से आयोजित किए जा रहे प्रवेश प्रक्रिया को लेकर भी लीड कॉलेज प्राचार्य से चर्चा की। दरअसल बीते वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष प्रवेश प्रक्रिया के प्रथम चरण में कम दाखिले हुए हैं। इस बिन्दु पर प्राचार्य डॉ. अमिताभ पांडे ने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से दाखिला प्रक्रिया थोड़ी प्रभावित हुई है, जो सीएलसी प्रथम एवं द्वितीय चरण में पूरी कर ली जाएगी। लीड कॉलेज प्राचार्य ने बताया कि ऑनलाइन कक्षाओं के संबंध में मंगलवार को प्राइवेट कॉलेज प्राचार्यों के साथ बैठक कर प्रशिक्षण दिया जाएगा।

ashish mishra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned