Railway: 19 माह बाद पटरी पर लौटेगी ट्रेन, शहरवासियों को बेसब्री से इंतजार

रेलवे बोर्ड ने इस ट्रेन के परिचालन के प्रस्ताव को मंजूर कर लिया है।

By: ashish mishra

Updated: 23 Sep 2021, 04:03 PM IST

छिंदवाड़ा. पेंचवैली पैसेंजर जल्द ही पटरी पर लौट आएगी। बताया जाता है कि रेलवे बोर्ड ने इस ट्रेन के परिचालन के प्रस्ताव को मंजूर कर लिया है। बता दें कि ‘पत्रिका’ द्वारा यात्रियों की समस्या को देखते हुए लगातार अभियान चलाकर पेंचवैली ट्रेन के परिचालन की मांग की जा रही थी। इस संबंध में जिम्मेदारों का ध्यान दिलाया गया। रतलाम रेलवे मंडल ने रेलवे बोर्ड को छह ट्रेनों के परिचालन शुरु करने को लेकर प्रस्ताव भी भेजा। इन छह ट्रेनों में इंदौर-भंडारकुंड स्पेशल ट्रेन भी शामिल थी। अंतत: रेलवे बोर्ड ने पेंचवैली ट्रेन के परिचालन को हरी झंडी दे दी है। बताया जाता है कि जल्द ही पश्चिम रेलवे ट्रेन के परिचालन को लेकर समय-सारणी जारी करेगा। सबकुछ ठीक ठाक रहा तो 19 माह बाद ट्रेन पटरी पर लौट आएगी। छिंदवाड़ा सहित आसपास के लोगों को भंडारकुंड, छिंदवाड़ा, परासिया, आमला, इटारसी, भोपाल होते हुए इंदौर तक ट्रेन की सुविधा मिलने लगेगी। गौरतलब है कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से बचाव को लेकर रेलवे बोर्ड द्वारा छिंदवाड़ा से 22 मार्च 2020 से पेंचवैली ट्रेन का परिचालन बंद कर दिया गया था। इसके बाद रेलवे बोर्ड ने यात्रियों की परेशानी को देखते हुए देश के विभिन्न जगहों से ट्रेन का परिचालन शुरु किया, लेकिन छिंदवाड़ावासी इस सुविधा से वंचित हैं। लोगों की असुविधा को देखते हुए ‘पत्रिका’ द्वारा समय-समय पर अभियान चलाया जा रहा है।


पश्चिम रेलवे करता है पेंचवैली का परिचालन
पेंचवैली फास्ट पैसेंजर(अब एक्सप्रेस) पश्चिम रेलवे(रतलाम रेल मंडल)की एवं पातालकोट एक्सप्रेस उत्तर रेलवे की ट्रेन है। दोनों ट्रेन के परिचालन के संबंध में इन्हीं दोनों रेलवे मंडल द्वारा रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेजा जा सकता है। हालांकि दोनों ट्रेन जिस भी रेल मंडल से होकर गुजरती हैं वहां के जनप्रतिनिधि भी डिमांड कर सकते हैं।

लंबे समय से हो रही ट्रेन चलाने की मांग
स्थानीय लोगों का कहना था कि पेंचवैली फास्ट पैसेंजर का परिचालन हमारे प्रदेश में ही होता है। इस टे्रन से काफी फायदा था। रेलवे को भी अच्छी आमदनी होती थी। इसके अलावा इस ट्रेन की रैक का इस्तेमाल ही छिंदवाड़ा से आमला, छिंदवाड़ा-बैतूल के लिए किया जाता था। जिससे काफी राहत थी। इन सबके बावजूद भी रेलवे द्वारा इस ट्रेन के परिचालन करने में दिलचस्पी नहीं दिखाई जा रही है। हालांकि अब रेलवे बोर्ड की स्वीकृति मिलने के बाद उम्मीद है कि जल्द ही ट्रेन का परिचालन शुरु हो जाएगा।

सांसद प्रतिनिधि ने जताया आभार
सांसद प्रतिनिधि अजय सिंहा ने बताया कि पेंचवैली के परिचालन को लेकर सांसद ने रेल मंत्री को पत्र लिखा था। बीते दिनों बैठक में भी इस मुद्दे को उठाया गया था। रेलवे बोर्ड द्वारा पेंचवैली ट्रेन के परिचालन किए जाने से स्थानीय वासियों को काफी फायदा होगा। उन्होंने बताया कि सांसद के माध्यम से छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस को छिंदवाड़ा होते हुए चंडीगढ़ तक चलाने की मांग की जा रही है। उम्मीद है कि रेलवे बोर्ड इस पर जल्द ही निर्णय लेगा। उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस के छिंदवाड़ा से होते हुए परिचालन होने सेरेल यात्रियों, व्यापारियों को चंडीगढ़, लुधियाना, जालंधर, ब्यास एवं अमृतसर में स्वर्ण मंदिर के दर्शन करने आने जाने के लिए सीधी रेल सेवा का लाभ मिलेगा। यह ट्रेन हजरत निजामुद्दीन, गाजियाबाद, मेरठ, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर होते हुए चलती है तो इससे काफी फायदा मिलेगा।

ashish mishra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned