20 की जगह, 35 के समाने की जद्दोजहद

prabha shankar

Publish: Nov, 15 2017 11:42:47 (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
20 की जगह, 35 के समाने की जद्दोजहद

व्यवस्था की दरकार, किसान और कर्मचारी दोनों परेशान, 20 हजार क्विंटल की है क्षमता, आ रहा 35 हजार क्विंटल अनाज

छिंदवाड़ा. भावांतर भुगतान योजना लागू करने के बाद तय किए गए अनाजों को मंडी परिसर में ही बेचने की बाध्यता के कारण मंडियों में व्यवस्थाएं चरमराने लगी हंै। छिंदवाड़ा कृषि मंडी परिसर में वर्तमान में हालात ये हैं कि क्षमता 20 हजार क्विंटल अनाज को शेड में सुरक्षित रखने की है। इसके उलट आवक हो रही है 35 हजार क्विंटल रोजाना। मंगलवार को हाल ये थे कि कार्यालय के दरवाजे तक मक्का का ठेर लग गया। मंडी कर्मचारी किसानों को मक्का लाने में जल्दबाजी न करने और रुक कर लाने का निवेदन कर रहे हैं, लेकिन किसान मंडी में टूट पड़ रहे हैं। मंडी प्रबंधन खरीदे अनाज का जल्द परिवहन कर उसे मंडी से बाहर गोदामों में पहुंचाने या व्यापारियों को उठाने की व्यवस्था बना रहा है, लेकिन आवक इतनी ज्यादा हो रही है। जिले की परासिया उपमंडी और तामिया में भी अनाज की खरीदी शुरू करवा दी गई है। परासिया में उपमंडी में अनाज खरीदी करने के लिए व्यापारियों को लाइसेंस देने के विशेष शिविर भी बुधवार को लगाया जा रहा है।

दो शिफ्टों में काम कर रहे कर्मचारी
मंडी में सुबह 10 बजे से बोली का काम शुरू हो रहा है। मंडी सचिव राजेश द्विवेदी ने बताया कि चार-चार कर्मचारियेां की दो टीमें बनाई गई हैं। एक टीम सुबह 10 से दोपहर २ बजे तक बोली लगाती है। उसके बाद वे कर्मचारी आफिस में पेपर वर्क करते हैं। उसके बाद दो बजे से दूसरे चार कर्मचारी बोली लगाते हैं जो शाम तक चलती है। कुछ व्यापारी तो शाम तक भी मंडी पहुंच रहे हैं और दूसरे दिन तक अनाज बेचने का रास्ता देख रहे हैं।

जा चुका है तीन रैक मक्का
जिले में मक्का की आवक के साथ रेल मार्ग से इसे बाहर भेजने का काम भी शुरू हो गया है। मिली जानकारी के अनुसार तीन रैक मक्का जिले से बाहर अन्य क्षेत्रों में पहुंचा दी गई है। इन तीन रैक में 66 हजार क्विंटल मक्का परिवहन किया जा चुका है। अनुमान है कि इस बार पचास से ज्यादा रैक अनाज बाहर भेजने की स्थिति बन सकती है। पिछले साल दो लाख मीट्रिक टन मक्का मंडी में आया था। इस बार एक लाख मीट्रिक टन यानि दस हजार क्विंटल तो सिर्फ मक्का की ही ज्यादा आवक होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned