शिवराज सिंह के बाद साध्वी निरंजन पहुंची मृतक जुड़वां बेटों के घर, कानून व्यवस्था को लेकर खड़े किए सवाल

शिवराज सिंह के बाद साध्वी निरंजन पहुंची मृतक जुड़वां बेटों के घर, कानून व्यवस्था को लेकर खड़े किए सवाल

Neeraj Patel | Publish: Feb, 25 2019 04:10:00 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति आज सोमवार को सुबह मृतक जुड़वां बेटों श्रेयांश व प्रियांश परिजनों के जख्मों पर मरहम लगाने पहुंचीं।

 

चित्रकूट. तेल व्यापारी के जुड़वां बेटों श्रेयांश व प्रियांश के अपहरण व हत्या की दिल दहला देने वाली वारदात के बाद पीड़ित परिजनों के जख्मों पर सियासत दारों के मरहम लगाने का क्रम जारी है। रविवार देर रात मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पहुंचने के बाद सोमवार सुबह केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति चित्रकूट पहुंचीं और मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें हर सम्भव मदद का भरोसा दिलाया।

इस दौरान मध्य प्रदेश पुलिस पर नाकामी का आरोप लगाते हुए उन्होंने राज्य की कांग्रेस सरकार को भी कानून व्यवस्था के मुद्दे पर घेरा। उधर पीड़ित परिजनों ने भी गम व गुस्से से भरे लहजे में पुलिस प्रशासन व बच्चों के सम्बन्धित विद्यालय के ट्रस्ट (जिसके द्वारा विद्यालय संचालित होता है) पर भी कई आरोप लगाए। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि घटना में पुलिस की लापरवाही साफ उजागर होती है। दोषियों को बख़्शा नहीं जाएगा।

हर सम्भव मदद का भरोसा

केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने पीड़ित परिवार को दुःख की इस घड़ी में उन्हें हर सम्भव मदद का भरोसा दिलाया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इस पूरे प्रकरण को लेकर वे काफी दुखी हैं। पुलिस की नाकामी ये हृदय विदारक घटना साफ बयां करती है। पीड़ित परिवार को वे भरोसा दिलाती हैं कि जो भी मदद होगी वो की जाएगी। इस बीच मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर भी हमला बोलते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पड़ोसी राज्य में कानून व्यवस्था की क्या स्थिति है ये स्पष्ट हो गया। पुलिस अपनी नाकामी छिपा नहीं सकती।

शिवराज ने की सीबीआई जांच की मांग

उधर रविवार देर रात मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात करने पहुंचे मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूरी घटना की सीबीआई जांच की मांग की है। उन्होंने आज सोमवार को सतना बंद का आह्वाहन किया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned