गैंगवार के चलते दिनदहाडे़ अंधाधुंध फायरिंग, चार लोगों की मौत, गांव में तनाव पूर्ण माहौल

हमीरवास थानान्र्तगत गांव जैतपुरा ढाणी मोजी में शुक्रवार शाम को गैंगवार के चलते मोटर साइकिल पर सवार युवकों ने गांव के सार्वजनिक चौक पर ताश खेल रहे युवकों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। इसमें मौके पर ही तीन युवकों की मौत हो गई

By: kamlesh

Published: 05 Feb 2021, 08:56 PM IST

चूरू/सादुलपुर। हमीरवास थानान्र्तगत गांव जैतपुरा ढाणी मोजी में शुक्रवार शाम को गैंगवार के चलते मोटर साइकिल पर सवार युवकों ने गांव के सार्वजनिक चौक पर ताश खेल रहे युवकों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। इसमें मौके पर ही तीन युवकों की मौत हो गई, वहीं तीन घायल हो गए। घटना के बाद बदमाशों का एक साथी पीछे रह गया, तो बदमाशों ने सबूत मिटाने के लिए अपने साथी को ही गोली मारकर हत्या कर दी।

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंचा एवं घटना का मौका निरीक्षण किया। मामले में एक आरोपी को पुलिस ने गिरफतार भी किया है। घटना के बाद पूरे गांव में तनाव पुर्ण माहोल बन गया है। ग्रामीणों ने मामले में आरोपीयों को गिरफ्तार करने की मांग की है। तथा गिर तारी नहीं होने तक मृतकों का पोस्टमार्टम नहीं करवाने एंव बदमाश के शव को नही देने का निर्णय किया है। घटना को गैंगवार से जोड़कर देखा जा रहा है। घटना में मृतक प्रदीप स्वामी अजय जैतपुरा का साथी था तथा अजय जैतपुरा की कोर्ट में पेशी के दौरान अंधाधुंध फायरिंग कर हत्या कर दी थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शाम साढे तीन बजे के करीब प्रदीप स्वामी तथा निहाल सिंह एवं ईश्वर सिंह तथा अन्य ग्रामीण गांव के चौक में तास खेल रहे थे। तभी दो मोटरसाइकिल पर सवार होकर बदमाश पहुंचे तथा अंधाधुंध फायरिंग करने लगे। जिसके कारण प्रदीप स्वामी, निहाल सिंह एंव ईश्वर सिंह की मौके पर ही मौत हो गई। गांव का ही संजय शिक्षक द्वारकाप्रसाद एंव एक अन्य घायल हो गया। घटना के बाद गांव में अफरा-तफरी मच गई एंव गांव में तनाव पूर्ण माहौल बन गया।

बदमाशों ने पहले की थी रैकी
मिली जानकारी के अनुसार गांव के पास ही स्थित एक जोहड़ी में जीप लेकर पहुंचे तथा अजय जैतपुरा के साथी प्रदीप स्वामी की रैकी की तथा बाद में जोहड़ी से ही मोटरसाईकिलों पर सवार होकर गांव में पहुंचे एव घटना को अंजाम दिया। घटना के बाद एक मोटरसाइकिल पर सवार होकर बदमाश जोहडी पहुंचे जहां पहले से खड़ी जीप में सवार होकर फरार हो गए। एक बदमाश जोहड़ी नहीं पहुंच पाया, जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया बताया है।

पुलिस को भाजपा नेता ने दी सूचना
ग्रामीणों ने पुलिस के खिलाफ रोष जताते हुए कहा कि घटना के बाद पुलिस एक घंटे बाद पहुंची है। वहीं मामले में भाजपा नेता रामसिंह कस्वा ने एएसपी चूरू योगेन्द्र फौजदार को सूचना दी जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची है। ग्रामीणो ने बताया कि घटना एक घंटे बाद पुलिस पहुंची जो पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़ा करता है। इसके अलावा घटना के तुरन्त बाद सोशल मीडिया पर खबर वायरल हो गई थी।

संपत नेहरा गैंग का आ रहा है नाम
मामले में संतप नेहरा गैंग का नाम आ रहा है। 17 जनवरी 2018 को स्थानीय न्यायालय परिसर में पैशी पर आए अजय जेतपुरा की अधांधुंध फायरिग कर हत्या कर दी थी । तथा प्रदीप स्वामी ने हमीरवास थाने में मामला दर्ज करवाया था। जिसके बाद से लगातार प्रदीप स्वामी को जान से मारने की धमकियां मिल रही थी। तथा शुक्रवार को प्रदीप स्वामी की भी हत्या कर दी गई।

पुलिस को झेलना पडा ग्रामीणों का रोष
देर शाम को मामले में एसपी नारायण टोगस मौके पर पहुंचे तो ग्रामीणो ने नारेबाजी कर पुलिस प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। हालांकि मामले में पुलिस अधिकारी ग्रामीणों से वार्ता करने का प्रयास किया। लेकिन ग्रामीण आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने तक वार्ता करने से इन्कार कर दिया। समाचार लिखे जाने तक मामला दर्ज नहीं हुआ है। एसपी चूरू सहित एएसपी पवन मीणा, डीएसपी बृजमोहन असवाल, थानाधिकारी गुरभुपेन्द्र सिंह एंव हमीरवास थानाधिकारी सुभाष चन्द्र मय पुलिस दल के साथ मौके पर थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned