scriptSardarshahar Murder Shyam Singh For 1 Lakh Rupees Face Crushed And Gave Painful Death | 1 लाख रुपए के लिए उजाड़ दिया था मौसी का सुहाग, मौसा का मुंह कुचल-कुचलकर दी दर्दनाक मौत | Patrika News

1 लाख रुपए के लिए उजाड़ दिया था मौसी का सुहाग, मौसा का मुंह कुचल-कुचलकर दी दर्दनाक मौत

locationचुरूPublished: Feb 05, 2024 01:27:12 pm

Submitted by:

Akshita Deora

Murder News: बीती 29 जनवरी को झाडिय़ों में मिले युवक के शव की हत्या के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने महज एक लाख रूपए के लिए रिश्ते में मौसा लगने वाले श्यामसिंह की सरदारशहर लाकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को झाडिय़ों में फेंककर मौके से फरार हो गए।

sardarshehr_churu_crime_.jpg

Rajasthan Crime News: बीती 29 जनवरी को झाडिय़ों में मिले युवक के शव की हत्या के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने महज एक लाख रूपए के लिए रिश्ते में मौसा लगने वाले श्यामसिंह की सरदारशहर लाकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को झाडिय़ों में फेंककर मौके से फरार हो गए। पुलिस ने मध्य प्रदेश के रतलाम निवासी राहुल पुत्र तेजसिंह राजपूत (21) और पवन उर्फ प्रदीप पुत्र अशोक सुथार (36) को मध्य प्रदेश से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर झाडिय़ों में फेंके गए उसके जूते व मोबाइल को बरामद किया है। पुलिस अब सोमवार को दोनों आरोपियों को न्यायालय में पेश कर आगे की पूछताछ के लिए पीसी रिमांड पर लेगी।

ऐसे दिया हत्या को अंजाम
पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने पूछताछ में बताया है कि वे झालावाड़ निवासी मृतक श्यामसिंह (35) को 22 जनवरी की सुबह बस से सरदारशहर लाए थे। आरोपियों ने उसी दिन रात्रि में रूपयों के लेनदेन के विवाद को लेकर उसके साथ मारपीट की। जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद उसकी शिनाख्त ना हो इसके लिए मृतक का मुंह कुचल दिया। आरोपियों ने मृतक का मोबाइल मौके पर मौजूद गैनाणी में फेंक दिया। उसके जूते झाडिय़ों में फेंक दिए। इसके बाद उसका शव भी वहीं झाडिय़ों में फेंक दिया। और मौेके से फरार होकर वापिस मध्यप्रदेश चले गए।

यह भी पढ़ें

डिलीवरी बॉय मर्डर केस: छठे दिन 5 साल के बेटे ने मुखाग्नि देकर किया पिता का अंतिम संस्कार, गांव में पसरा सन्नाटा




सबसे पहले महिलाओं ने देखा शव
गांधी विद्या मंदिर मेगा हाइवे के पास बनी गैनाणी और झाडिय़ो के बीच 29 जनवरी को अज्ञात शव मिलने से आसपास के क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी। लकडिय़ां काटने पहुंची कुछ महिलाओं ने जब शव को देखा तो इसकी सूचना पुलिस थाने में दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर राजकीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। मृतक के पास कोई दस्तावेजी सबूत नहीं मिलने से पुलिस परेशान थी। इसके बाद के पकड़े टटोले तो उनमें एक बस का टिकट मिला। जिससे पुलिस को यह पता लग गया कि मृतक श्यामसिंह अन्य दो व्यक्तियों के साथ 22 जनवरी को सुबह सरदारशहर आया था।

भाई ने करवाया था हत्या का मामला दर्ज
पुलिस को झाडिय़ों में 29 जनवरी को एक अज्ञात व्यक्ति की लाश मिलने पर मौके पर मौके की फोटोग्राफी करवाई गई। मृतक के हाथ पर श्यामसिंह नाम का टैटू गुदवाया हुआ था। मृतक की फोटो और टैटू के आधार पर पुलिस ने राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश व हरियाणा आदि रके पुलिस थानों में सूचना दी। शिनाख्त के लिए सोशल मीडिया पर भी मृतक के फोटो का प्रचार प्रसार किया गया। इसके बाद उसी दिन मृतक की शिनाख्त झालावाड़ निवासी श्यामसिंह पुत्र बालूसिंह राजपूत (35) के रूप में हुई। 30 जनवरी को मृतक के छोटे भाई रामसिंह राजपूत की रिपोर्ट पर अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करजांच शुरू की।

ट्रेंडिंग वीडियो