विराट-रोहित विवाद पर एक बार फिर बोले कोच रवि शास्‍त्री, नहीं है ऐसी कोई बात

विराट-रोहित विवाद पर एक बार फिर बोले कोच रवि शास्‍त्री, नहीं है ऐसी कोई बात

Mazkoor Alam | Updated: 10 Sep 2019, 09:21:43 PM (IST) क्रिकेट

विश्व कप के बाद से ही रोहित शर्मा और विराट कोहली के बीच विवाद का मामला गरमाया हुआ है। विराट कोहली के खंडन के बाद भी वह थमता नजर नहीं आ रहा है।

मुंबई : भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और शॉर्टर फॉर्मेट के दिग्गज ओपनिंग बल्लेबाज रोहित शर्मा के बीच मतभेद की खबरों पर अब टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने एक बार फिर अपनी जबान खोली है। उन्होंने इस तरह की किसी भी मतभेद से इनकार करते हुए कहा कि नजरिये में अंतर को मतभेद के रूप में नहीं देखा जाना चाहिए। शास्त्री पहले भी इस तरह की खबरों को बकवास बता चुके हैं।

कहा- चर्चाओं को बढ़ावा दिया जाना चाहिए

रवि शास्त्री ने खाड़ी देश के एक मीडिया से बात करते हुए कहा कि टीम में जब 15 खिलाड़ी होते हैं तो सब एक तरह से नहीं सोच सकते। कई बार चर्चाओं में ऐसा मौका आता है, जब नजरियों में विभिन्नता होती है और इसकी जरूरत है। वह नहीं चाहते कि सब एक ही बात बोलें। रवि शास्त्री ने कहा कि टीम के बीच चर्चाएं होते रहनी चाहिए, तभी नई रणनीतियों के बारे में सोचा जा सकता है। इसे बढ़ावा दिया जाना चाहिए। इसके लिए खिलाड़ियों को अपनी बात रखने का मौका देना होगा। इसके बाद तय करना होगा कि क्या बेस्ट है।

दिल्ली के इस स्टेडियम में होगा विराट कोहली स्टैंड का अनावरण, टीम इंडिया की रहेगी मौजूदगी

जूनियर खिलाड़ी भी रख सकता है अपने विचार

शास्त्री ने कहा कि कभी-कभी ऐसा भी हो सकता है कि टीम का सबसे जूनियर खिलाड़ी आपके सामने ऐसी स्ट्रेटजी रख दे, जिसके बारे में आपने सोचा भी नहीं होगा और इस पर हमें इस पर विचार करने की जरूरत होती है। इसलिए इसे मतभेद के रूप में नहीं देखा जाना चाहिए।

मुख्य कोच के दूसरे कार्यकाल में रवि शास्त्री का ध्यान बेंच स्ट्रेंथ मजबूत करने पर

विराट पहले भी कर चुके हैं खारिज

बता दें कि कैरेबियाई दौरे पर भारतीय टीम के रवाना होने से पहले भी विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच के मतभेद से कप्तान कोहली समेत कोच शास्त्री ने इनकार किया था। उन्होंने फिर कहा कि अगर रोहित-कोहली में गंभीर मतभेद होते तो रोहित विश्व कप में पांच शतक नहीं जड़ पाते। इसके अलावा विराट और रोहित एक साथ लंबी साझेदारियां भी नहीं कर पाते। उन्होंने कहा कि वह पिछले पांच साल से ड्रेसिंग रूम का हिस्सा हैं। उन्होंने देखा है कि लड़के कैसे खेल रहे हैं और वे कैसे टीम को मजबूत बना रहे हैं। उन्हें अपना काम पता है। इस तरह की खबर बकवास है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned