Dhoni XI 2011 vs Kohli XI 2019 : Aakash Chopra ने बताया विश्व कप खेली कौन-सी टीम थी बेहतर

Aakash Chopra ने Mahendra Singh Dhoni की कप्तानी वाली 2011 की विश्व कप टीम और Virat Kohli की कप्तानी में 2019 विश्व कप में खेली टीम की तुलना कर बताया कौन-सी टीम बेहतर थी।

By: Mazkoor

Updated: 27 Jul 2020, 05:53 PM IST

नई दिल्ली : टीम इंडिया (Team India) के पूर्व सलामी बल्लेबाज और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) की कप्तानी वाली 2011 की विश्व कप टीम और विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी में 2019 में विश्व कप खेली भारतीय टीम में से कौन-सी टीम बेहतर थी, इसका विश्लेषण किया और बताया कि 2011 विश्व कप में खेली धोनी की टीम ज्यादा बेहतर थी। बता दें कि धोनी की टीम ने 2011 में श्रीलंका को हराकर जहां विश्व कप जीता था, वहीं कोहली की टीम सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड के हाथों हारकर बाहर हो गई थी। कमाल की बात तो यह है कि इन दोनों टीमों में सिर्फ दो खिलाड़ी कॉमन थे। वह थे दोनों टीमों के कप्तान धोनी और विराट कोहली। ये दोनों एक-दूसरे की कप्तानी में दोनों विश्व कप में खेले थे।

ऐसी थी दोनों टीमें

महेंद्र सिंह धोनी की 2011 विश्व कप में खेली टीम : सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, युवराज सिंह, विराट कोहली, सुरेश रैना, महेंद्र सिंह धोनी, हरभजन सिंह, जहीर खान, मुनफ पटेल, आशीष नेहरा/एस श्रीसंत।

विराट कोहली की 2019 विश्व कप में खेली टीम : रोहित शर्मा, शिखर धवन/केएल राहुल, विराट कोहली, दिनेश कार्तिक/केदार जाधव, ऋषभ पंत/महेंद्र सिंह धोनी, हार्दिक पांड्या, रविंद्र जडेजा, कुलदीप यादव/युजवेंद्र चहल, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह।

Steve Bucknor पर शांत नहीं हुआ Irfan Pathan का गुस्सा, बोले- दो नहीं सात-सात गलतियां हुई

हर स्थान के खिलाड़ियों की तुलना की

आकाश चोपड़ा ने मजेदार तरीके से इन दोनों टीमों के बीच तुलना किया। उन्होंने हर स्थान के खिलाड़ी की दूसरी टीम के उसी स्थान के खिलाड़ी और उसके प्रदर्शन से तुलना की और इस आधार पर बताया कि महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में 2011 खेली टीम इंडिया ज्यादा बेहतर थी।

देखें बल्लेबाजी में कौन किस पर पड़ा भारी

आकाश चोपड़ा के अनुसार, सचिन तेंदुलकर और रोहित शर्मा के बीच मुकाबले में दोनों बराबरी पर रहे तो वहीं प्रदर्शन के आधार पर वीरेंद्र सहवाग को शिखर धवन ने पीछे छोड़ा। तीसरे स्थान की जंग में आकाश ने विराट कोहली को गौतम गंभीर से बेहतर बताया। इसके बाद मध्यक्रम में 2011 बल्लेबाज युवराज सिंह, सुरेश रैना 2011 के खिलाड़ियों पर भारी पड़े। बता दें कि 2019 विश्व कप में टीम इंडिया को मध्यक्रम ने बहुत रुलाया था। इसी का खामियाजा टीम इंडिया को भुगतना पड़ा था, जबकि 2011 में धोनी की टीम का मिडल ऑर्डर काफी मजबूत था।

Kemar Roach ने हासिल की बड़ी उपब्लधि, 26 साल से विंडीज का कोई गेंदबाज नहीं कर पाया ऐसा

गेंदबाजी में भी 2011 के खिलाड़ी साबित हुए बेहतर

वर्तमान भारतीय गेंदबाजी आक्रमण को विश्व का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण बताया जा रहा है, लेकिन आकाश चोपड़ा ने इससे बेहतर गेंदबाजी आक्रमण 2011 विश्व कप में खेली टीम इंडिया का बताया। उनके अनुसार, जहीर खान और जसप्रीत बुमराह की तुलना की जाए तो ये दोनों बराबरी पर हैं, लेकिन बाकी के गेंदबाज आशीष नेहरा, मुनफ पटेल, शांताकुमारन श्रीसंत और हरभजन सिंह वर्तमान के मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल से बेहतर थे।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned