Jammu-Kashmir: कुलगाम में अपनी पार्टी के नेता की गोली मारकर हत्या

 

जम्मू-कश्मीर में यह चौथी राजनीतिक हत्या है। इससे पहले पिछले तीन महीनों में कश्मीर घाटी में तीन भाजपा नेताओं की भी हत्या हो चुकी है।

By: Dhirendra

Updated: 19 Aug 2021, 10:54 PM IST

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर की अपनी पार्टी के नेता की गुरुवार को कुलगाम जिले में आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आतंकियों ने गुलाम हसन लोन ( Ghulam Hassan Lone ) को देवसर स्थित घर पर करीब से गोली मारी। गंभीर रूप से घायल गुलाम हसन लोन को अस्पताल ले जाया गया। लेकिन उन्होंने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। जम्मू-कश्मीर में इस तरह की चौथी राजनीतिक हत्या है। इससे पहले पिछले तीन महीनों में कश्मीर घाटी में तीन भाजपा नेताओं की भी हत्या हो चुकी है।

गुलाम हसन लोन की हत्या दुर्भाग्यपूर्ण

जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी प्रमुख अल्ताफ बुखारी ने लोन की हत्या को बेहद दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है। उन्होंने कहा कि इस तरह के हमलों का मकसद जम्मू-कश्मीर में मौजूदा शांति प्रक्रिया को रोकना है। हिंसा के इन निंदनीय कृत्यों से कुछ नहीं होने वाला है। अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं ने हमले की निंदा की।

Read More: Jammu-Kashmir: कुलगाम में आतंकियों ने BJP नेता की गोली मारकर की हत्या

मुख्यधारा के राजनेताओं की हत्या चिंताजनक

पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने भी अपनी पार्टी के नेता की हत्या की घोर निंदा की है। उन्होंने कहा है कि शोक संतप्त परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। दुर्भाग्य से कश्मीर में राजनीतिक हत्याओं का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। नेशनल कांफ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने कहा कि उग्रवादी संगठनों द्वारा मुख्यधारा के राजनेताओं को निशाना बनाने का नया चलन बहुत चिंताजनक है। मैं इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं।

पीपुल्स कांफ्रेंस के प्रमुख सज्जाद लोन ने भी मुख्यधारा के नेताओं पर हालिया हमले को चिंताजनक बताया है। उन्होंने कहा कि हिंसा केवल लोगों के लिए दुख लाती है। इस तरह की हत्याएं केवल अधिक विधवाएं और अनाथ पैदा करती हैं। इन जघन्य कृत्यों को रोकना चाहिए।

2 दिन पहले हुई थी भाजपा नेता डार की हत्या

बता दें कि दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के ब्राजलू-जागीर इलाके में आतंकवादियों ने भारतीय जनता पार्टी ( भाजपा ) के एक नेता जावेद अहमद डार की गोली मारकर हत्या कर दी। जावेद अहमद डार पिछले तीन वर्षों से होमशालीबाग निर्वाचन क्षेत्र के भाजपा प्रभारी थे।

Read More: Sunanda Pushkar Death Case: सुनंदा की मौत को हत्या मानने के लिए पर्याप्त सबूत नहीं - कोर्ट

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned